अत्याधुनिक सुविधा से युक्त किडनी डायलिसिस सेंटर के संचालन का दायित्व श्री वैष्णव पारमार्थिक ट्रस्ट को

इंदौर| प्रसिद्ध खजराना गणेश मंदिर प्रशासन ने धार्मिक कार्यों के साथ-साथ अब पीड़ित मानव की सेवा की जिम्मेदारी भी ली है। खजराना गणेश मंदिर में अत्याधुनिक सुविधा से युक्त किडनी डायलिसिस सेंटर शीघ्र शुरू हो जाएगा। इस सेंटर में प्रथम चरण में रियायती दरों पर डायलिसिस की जाएगी। पीपीपी माडल पर इस सेंटर के संचालन का दायित्व श्री वैष्णव शैक्षणिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट को सौंपा गया है। मंदिर में ही जनसहयोग से सर्वसुविधायुक्त वृद्धाश्रम की स्थापना भी की जाएगी। इस वृद्धाश्रम के लिये अधिक से अधिक जनसहयोग देने की अपील की गयी है।

यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी श्री खजराना गणेश मंदिर प्रबंधन समिति की बैठक में दी गयी। बैठक में नगर निगम आयुक्त श्री राकेश सिंह, इंदौर विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री दीपक सिंह, मंदिर के प्रशासक एवं एकेवीएन के एमडी श्री मनीष सिंह, अपर कलेक्टर द्वय श्री दिलीप कुमार तथा श्री सुधीर कुमार कोचर, मंदिर के महाप्रबंधक श्री बी.एल.कासट, प्रबंध समिति के सदस्य द्वय श्री अशोक भट्ट तथा श्री जयदेव भट्ट भी विशेष रूप से मौजूद थे। बैठक में बताया गया कि मंदिर प्रबंधन द्वारा धार्मिक कार्यों के साथ-साथ अब परमार्थिक एवं पीड़ित मानव की सेवा का महत्वपूर्ण काम भी हाथ में लिया गया है। मंदिर प्रबंधन द्वारा मंदिर परिसर में पीपीपी माडल पर अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त किडनी डायलिसिस सेंटर की स्थापना की जा रही है। पीपीपी माडल पर इसके संचालन के लिये इम्प्रेशन आफ इंट्रेस्ट से संबंधित आवेदन आमंत्रित किये गये थे। पहले इसके आधार पर दिसम्बर-2014 को श्री गुलाबचंद पारमार्थिक ट्रस्ट का प्रस्ताव मान्य किया गया था। इनके प्रस्ताव को अमान्य कर मार्च, 2015 में पुनः इम्प्रेशन आफ इंट्रेस्ट आमंत्रित किये गये। इसके आधार पर कुल तीन संस्थाओं द्वारा आवेदन किये गये। इनमें सबसे अधिक उपयुक्त पाये जाने पर श्री वैष्णव शैक्षणिक एवं पारमार्थिक न्यास इंदौर का प्रस्ताव मान्य किया गया एवं इसे स्वीकृति दी गयी।

सर्वसुविधायुक्त वृद्धाश्रम बनेगा
बैठक में बताया गया कि मंदिर प्रशासन द्वारा परिवार से उपेक्षित वृद्धों के लिये सर्वसुविधा युक्त वृद्धाश्रम बनाया जाएगा। इस वृद्धाश्रम में सभी जरूरी सुविधाएं रहेंगी। कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी ने नागरिकों से आग्रह किया है कि वे भी इस वृद्धाश्रम के लिये यथासंभव दान दे सकते हैं। अगर कोई व्यक्ति एक कमरा अथवा मंजिल बनाना चाहता है तो उस जगह पर संबंधित दानदाता का नाम अंकित किया जाएगा। नागरिक अन्य सहयोग भी दे सकते हैं।

बैठक में मंदिर परिसर में अन्न क्षेत्र के संचालन के संबंध में भी चर्चा की गयी। बताया गया कि नवीन अन्न क्षेत्र भवन बनकर तैयार हो गया है। शीघ्र ही नये भवन में अन्न क्षेत्र शुरू कर दिया जायेगा, साथ ही नवीन भवन में प्रशासनिक कार्यालय भी स्थापित कर दिया जायेगा। मंदिर परिसर में सर्वसुविधायुक्त सुलभ कॉम्पलेक्स का संचालन भी शुरू हो गया है।

इंदौर| प्रसिद्ध खजराना गणेश मंदिर प्रशासन ने धार्मिक कार्यों के साथ-साथ अब पीड़ित मानव की सेवा की जिम्मेदारी भी ली है। खजराना गणेश मंदिर में अत्याधुनिक सुविधा से युक्त किडनी डायलिसिस सेंटर शीघ्र शुरू हो जाएगा। इस सेंटर में प्रथम चरण में रियायती दरों पर डायलिसिस की जाएगी। पीपीपी माडल पर इस सेंटर के संचालन का दायित्व श्री वैष्णव शैक्षणिक एवं पारमार्थिक ट्रस्ट को सौंपा गया है। मंदिर में ही जनसहयोग से सर्वसुविधायुक्त वृद्धाश्रम की स्थापना भी की जाएगी। इस वृद्धाश्रम के लिये अधिक से अधिक जनसहयोग देने की अपील की गयी है। यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री आकाश…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »