अपनी राहें-अपनी आजादी के ध्येय के साथ शुरू हुआ “राहगिरी’’ कार्यक्रम

अपनी राहें-अपनी आजादी के ध्येय के साथ पहला राहगिरी कार्यक्रम आज 14 दिसम्बर से प्रारंभ हो गया है। इस पहले कार्यक्रम में हजारों नागरिकों ने 29 गतिविधियों से एक साथ सुबह का शारीरिक व्यायाम किया। इस कार्यक्रम को मिले बेहतर प्रतिसाद के बाद यह कार्यक्रम अब प्रत्येक रविवार को विजय नगर चौराहे से बापट चौराहे तक मनाया जायेगा। यह कार्यक्रम इंदौर जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं अन्य विभागों और संस्थाओं के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। यह कार्यक्रम इंदौर शहर के लोगों की सेहत में सुधार लाने, पर्यावरण सुधार, साइकिलिंग, वॉकिंग, नॉन मोटर राईज्ड ट्रांसपोर्ट के साथ ही अन्य शारीरिक व्यायाम से जुड़ी गतिविधियों से लोगों को जोड़ने के उद्देश्य से आयोजित किया जा रहा है। अपनी राहें-अपनी आजादी के ध्येय को लेकर आयोजित इस कार्यक्रम में 29 तरह की गतिविधियां रखी गयी।

राहगिरी के पहले कार्यक्रम में विजय नगर चौराहे से लेकर बापट चौराहे तक उत्सवी माहौल था। लोगों में इस कार्यक्रम के प्रति आपार उत्साह देखा गया। कार्यक्रम सुबह ठीक 7 बजे से शुरू हो गया। देखते-देखते ही बड़ी संख्या में बुजुर्ग, युवा, बच्चे सड़क पर आ गये। सड़क पर जगह-जगह शारीरिक व्यायाम की विभिन्न गतिविधियां आयोजित की गयीं। इन गतिविधियों में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी उम्र के नागरिकों ने अपार उत्साह के साथ भाग लिया। यह कार्यक्रम नागरिकों के लिये अविस्मरणीय बन गया। विजय नगर चौराहे से लेकर बापट चौराहे तक नागरिकों के लिये शारीरिक व्यायाम संबंधी 29 गतिविधियां आयोजित की गयीं। नागरिकों ने अपनी इच्छानुसार गतिविधियों में शामिल होकर अपनी सेहत सुधारने संबंधी व्यायाम किये। कार्यक्रम में कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी, डीआईजी श्री राकेश गुप्ता, नगर निगम आयुक्त श्री राकेश सिंह, इंदौर विकास प्राधिकरण के सीईओ श्री दीपक सिंह, अपर कलेक्टर द्वय श्री दिलीप कुमार तथा श्री सुधीर कोचर, संयुक्त कलेक्टर श्री संदीप सोनी सहित अन्य अधिकारियों ने भी विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा लिया। कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी ने इससे पूर्व कार्यक्रम की व्यवस्थाओं का पैदल घूमकर जायजा लिया। उन्होंने नागरिकों की सुविधा के लिये अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिये। कलेक्टर श्री त्रिपाठी ने बताया कि यह कार्यक्रम अब प्रत्येक रविवार को सुबह 7 से 10 बजे तक आयोजित किया जायेगा। उन्होंने नागरिकों से अपील की कि वे इस कार्यक्रम में अवश्य भाग लें।

राहगिरी के पहले कार्यक्रम में सायकिलिंग की गतिविधि भी हुई। नागरिकों को साईकिलिंग के लिये 50 साईकिलें नि:शुल्क उपलब्ध करायी गयीं। कार्यक्रम के लिये तीन स्थानों पर हेल्प डेस्क भी बनाये गये, जिनके माध्यम से नागरिकों को उक्त क्षेत्र में होने वाली गतिविधियों के संबंध में जानकारी दी गयी। कार्यक्रम में स्केटिंग, गली क्रिकेट, वॉलीबॉल, निम्बू रेस, रस्साकसी, एरोविक्स, कराटे, योगा, खो-खो, किड्स झोन, रिडिंग झोन, रस्सी कूद, चेयर रेस,जूम्बा, सितोलिया, नुक्कड़ नाटक, हैण्डबॉल, फुटबॉल, सहित संगीत के अन्य कार्यक्रम आयोजित किये गये। इन गतिविधियों के लिये विजय नगर चौराह से लेकर बापट चौराह तक अलग-अलग झोन बनाये गये थे।

कार्यक्रम में रिडिंग झोन भी बनाया गया था। इस झोन में पिं्रट मीडिया द्वारा प्रकाशित अखबार नागरिकों को नि:शुल्क उपलब्ध कराये गये। इससे नागरिकों ने शारीरिक व्यायाम के साथ देश-विदेश के साथ ही शहर में शहर संबंधी समाचारों की जानकारी प्राप्त की। इस आयोजन के लिये विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दायित्व भी सौंपे गये थे। कार्यक्रम के लिये एआईसीटीएसएल इंदौर को नोडल एजेंसी बनाया गया है। इस कार्यक्रम में जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन, यातायात पुलिस, नगर निगम सहित अन्य विभागों और संस्थाओं का सहयोग भी लिया जा रहा है।

अपनी राहें-अपनी आजादी के ध्येय के साथ पहला राहगिरी कार्यक्रम आज 14 दिसम्बर से प्रारंभ हो गया है। इस पहले कार्यक्रम में हजारों नागरिकों ने 29 गतिविधियों से एक साथ सुबह का शारीरिक व्यायाम किया। इस कार्यक्रम को मिले बेहतर प्रतिसाद के बाद यह कार्यक्रम अब प्रत्येक रविवार को विजय नगर चौराहे से बापट चौराहे तक मनाया जायेगा। यह कार्यक्रम इंदौर जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन एवं अन्य विभागों और संस्थाओं के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है। यह कार्यक्रम इंदौर शहर के लोगों की सेहत में सुधार लाने, पर्यावरण सुधार, साइकिलिंग, वॉकिंग, नॉन मोटर राईज्ड ट्रांसपोर्ट के साथ ही…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »