आदर्श आचरण संहिता का सख्ती के साथ पालन हो – कमिश्नर

शिवपुरी (IDS-PRO) ग्वालियर कमिश्नर श्री के.के.खरे ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी आदर्श आचरण संहिता जिले में सख्ती के साथ पालन हो और निर्वाचन के दौरान किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो, इसके लिए असामाजिक तत्वों के विरूद्ध अभी से कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। ग्वालियर कमिश्नर श्री खरे ने उक्त आशय के निर्देश आज नगरीय निकाय निर्वाचन 2014 की तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के संबंध में आयोजित बैठक में दिए।
जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित बैठक में ग्वालियर रैंज के आई.जी. श्री आदर्श कटियार, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री राजीव दुबे, पुलिस अधीक्षक श्री एम.एल.छारी, प्रेक्षक श्री बी.एन.दुबे, अपर कलेक्टर श्री जेड.यू.शेख, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री डी.के.मौर्य, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आलोक कुमार, उपजिला निर्वाचन अधिकारी श्री एस.एल.प्रजापति सहित निर्वाचन कार्य से जुड़े जिला स्तरीय अधिकारी तथा नगरीय निकाय के लिए नियुक्त रिटर्निंग एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी उपस्थित थे।
श्री खरे ने निर्देश दिए कि नगरीय निकाय निर्वाचन के दौरान कोलाहल नियंत्रण अधिनियम का भी सख्ती के साथ पालन हो और यह सुनिश्चित किया जाए कि ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग निर्धारित समय सीमा के बाद न हो। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय निर्वाचन में आदर्श मतदान केन्द्रों को बेहतर बनाने जाए। श्री खरे ने निर्देश दिए कि निर्वाचन से संबंधित जो कार्य पूर्ण हो चुका है। उसके फिडिंग का कार्य कर अद्यतन किया जाए। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय के निर्वाचन के दौरान पहली बार ई.व्ही.एम.मशीनों का उपयोग किया जा रहा है इसके लिए मतदाताओं को विभिन्न माध्यमों से अध्यक्ष एवं पार्षद पद हेतु कैसे मतदान किया जाएगा, उसके लिए जागरूक किया जाए। उन्होंने कहा कि सेक्टर आॅफीसरों के साथ ई.व्ही.एम. मशीन के साथ-साथ अतिरिक्त मतदान कर्मियों की भी व्यवस्था की जाए। जिससे मतदान के दौरान किसी प्रकार का अवरोध उत्पन्न न हो सके।
श्री खरे ने निर्देश दिए कि मतदानकर्मी अपने मतदान अधिकार से बंचित न रहे इसके लिए उन्हें निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र (ई.डी.वी.) के माध्यम से प्रशिक्षण केन्द्रों पर बनाए गए फेसीलिटेशन केन्द्रों पर मतदान की सुविधा उपलब्ध कराई जाए। 
गड़बड़ी फैलाने वालो के विरूद्ध सख्ती से कार्यवाही हो
आई.जी. श्री आदर्श कटियार ने बैठक में पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि चुनाव के दौरान किसी प्रकार की अप्रिय घटना होने पर संबंधित थाना प्रभारी जिम्मेदार रहेगा। इसके लिए अभी से थाना प्रभारी उनके क्षेत्र के असामाजिक तत्वों या चुनाव के दौरान गड़बड़ी फैलाने वालों के विरूद्ध सख्ती के साथ कार्यवाही करें। जिससे निर्वाचन के दौरान किसी भी प्रकार का व्यवधान उत्पन्न न हो सके। साथ ही थाना प्रभारी यह भी सुनिश्चित करे कि उनके थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सभी शस्त्र आवश्यक रूप से जमा हो जाए। चेक पोस्ट या नाका बनाकर वाहनों एवं वाहनों की भी सख्ती के साथ जांच करे।
जिला कलेक्टर श्री राजीव दुबे ने बैठक के शुरू में जिले में नगरीय निकाय निर्वाचन हेतु की जा रही तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि जिले में मतद
ान दलों का गठन हो चुका है। सेक्टर आॅफीसर एवं मतदान दल के सदस्यों को प्रथम चरण का प्रशिक्षण प्रदाय किया जा चुका है। ई.व्ही.एम. मशीनों का प्रथम एवं द्वितीय चरण के रेण्डमाईजेशन की कार्यवाही भी पूर्ण कर ली गई है। नगरीय निकायों का कम्यूनिकेशन प्लान भी तैयार किया जा चुका है। अधिकारियों द्वारा मतदान केन्द्रों का शत-प्रतिशत निरीक्षण कर आवश्यक मूलभूत सुविधाएं तथा रेम्प की व्यवस्था भी की गई है। नगरीय निकायो में आदर्श मतदान केन्द्र भी बनाए गए है। श्री दुबे ने बताया कि 28 नवम्बर को प्रथम चरण के मतदान के दौरान जिले की करैरा, कोलारस, बैराड़ और खनियांधाना में मतदान होगा। जबकि द्वितीय चरण में दो दिसम्बर को पिछोर, बदरवास और नगर पालिका परिषद शिवपुरी में मतदान होगा। जिले में कुल 239 मतदान केन्द्र बनाए गए है।
पुलिस अधीक्षक श्री एम.एल.झारी ने मतदान के दौरान की जाने वाली सुरक्षा व्यवस्थाओं और असामाजिक तत्वों के विरूद्ध की गई कार्यवाही से अवगत कराते हुए बताया कि जिले में छह असमाजिक तत्वों के विरूद्ध जिला बदर की कार्यवाही की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »