इंदौर की शान राजबाड़े में बनेगा संग्रहालय

इंदौर (IDS-PRO) इंदौर शहर में स्थित महत्वपूर्ण धरोहर राजवाड़ा को सजाया एवं संवारा जाएगा। इस राजवाड़े में ऐतिहासिक महत्व की वस्तुओं तथा कलाकृतियों पर आधारित संग्रहालय बनाया जाएगा। साथ ही राजवाड़े के बाहर शहर के संगीत, गायक, नृत्यक, नाट¬ कलाकार, लोक कलाकार आदि को अपनी कला की प्रस्तुति देने के लिये मंच उपलब्ध कराया जाएगा। इस संबंध में सुझाव के लिये राजवाड़ा कॉलिंग नाम से फेसबुक के पेज का विमोचन भी किया गया है।

यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी द्वारा संबंधित व्यक्तियों के साथ की गयी बैठक में दी गयी। बैठक में इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, इंदौर गौरव फाउण्डेशन के अध्यक्ष श्री अशोक चितले, महासचिव श्री अनिल भण्डारी, एडीएम श्री सुधीर कुमार कोचर भी मौजूद थे। कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी ने रेसीडेंसी में आज इतिहासविद तथा राजवाड़ा और होल्कर कालीन रियासत से संबंधित सामग्रियों एवं कलाकृतियों को सहजने वाले व्यक्तियों तथा इससे संबंधित अन्य लोगों से चर्चा की। इसके बाद इंदौर शहर के संगीतकारों, गायकों, नाट¬कारों आदि से भी बैठक में चर्चा की।

बैठक में बताया गया कि राजबाड़ा के जीर्णोद्धार का कार्य गौरव फाउण्डेशन के माध्यम से जनभागीदारी से कराया जायेगा । राजवाड़ा में प्रत्येक मंजिल पर संग्रहालय बनाया जाएगा। इसके लिये भेंटकर्ताओं से अपील की गयी कि वे संग्रहालय के लिये सामग्रियां उपलब्ध कराएं। इसके अंतर्गत वे होल्कर रियासत संबंधी फोटोग्राफस्, पेंटिंग, प्राचीन सिक्के, नापतौल के बांट, उस दौर के वस्त्रों, भोजन पात्र, मुद्राएं, ग्रामोफोन आदि सामग्री उपलब्ध करा सकते हैं। जहां सामग्री लगायी जाएगी उसके नीचे भेंटकर्ता का नाम भी लिखा जाएगा। संग्रहालय बनाने के संबंध में सुझाव भी लिये गये। बेठक में बताया गया कि राजवाड़ा पर प्रत्येक रविवार की सुबह राहगीरी का कार्यक्रम भी आयोजित किया जाएगा।

इसके अलावा राजवाड़े के बाहर शहर के संगीत, गायक, नृत्यक, नाट¬ कलाकार, लोक कलाकार आदि को अपनी कला की प्रस्तुति देने के लिये मंच उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही कलाकारों को मंच के लिये लाईट, साऊ ण्ड, कुर्सी आदि जरूरी सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएंगी। कलाकारों को यह सुविधा रविवार की सुबह और शाम को प्रथम चरण में उपलब्ध करायी जाएगी। इसके बाद बेहतर प्रतिसाद मिलने पर इसे प्रतिदिन करने पर भी विचार किया जाएगा। विचार किया जा रहा है कि कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम स्थल के आसपास नो व्हीकल झोन रखा जाए। बैठक में बताया गया कि राजबाड़ा का जीर्णोद्धार जनभागीदारी से होगा। राजबाड़े पर आकर्षक विद्युत साज-सज्जा की जायेगी। सांस्कृतिक कार्यक्रमों और स्थानीय संगीत कलाकारों के लिये मंच उपलब्ध कराया जायेगा। सांस्कृतिक कार्यक्रम और संगीत कार्यक्रमों की साप्ताहिक प्रस्तुति होगी।

बैठक में बताया गया कि होल्करकालीन रियासत की धरोहर सामग्री और अन्य कलाकृतियों के प्रदर्शन के लिये आर्ट गैलरी बनेगी। शहर के इतिहासविद्, कलाकारों और अन्य लोगों से सामग्री और कलाकृतियां उपलब्ध कराने की अपील की गयी। बैठक में श्री विठ्ठल गावड़े ने होल्कर रियासत की गतिविधियों से संबंधित फोटो भी भेंट किये । बताया गया कि राजबाड़ा के जीर्णोद्धार के संबंध में आमजन से सुझाव लेने के लिये फेसबुक का पेज बनाया गया है। राजबाड़े के फर्श को व्यवस्थित कर कालीन बिछायी जायेगी। पुरानी लकड़ियों को संरक्षित करने तथा सुन्दर बनाने के लिये पालिश का कार्य होगा। बैठक में संगीत कार्यक्रम को प्रभावी और सुव्यवस्थित बनाने के संबंध में महत्वपूर्ण सुझाव दिये गये। इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष तथा लोक संस्कृति मंच के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी ने संगीत कार्यक्रम के लिये अपना महत्वपूर्ण सहयोग देने की बात कही। उन्होंने कहा कि वह सहआयोजक के रूप में सहयोग देंगे।

इंदौर (IDS-PRO) इंदौर शहर में स्थित महत्वपूर्ण धरोहर राजवाड़ा को सजाया एवं संवारा जाएगा। इस राजवाड़े में ऐतिहासिक महत्व की वस्तुओं तथा कलाकृतियों पर आधारित संग्रहालय बनाया जाएगा। साथ ही राजवाड़े के बाहर शहर के संगीत, गायक, नृत्यक, नाट¬ कलाकार, लोक कलाकार आदि को अपनी कला की प्रस्तुति देने के लिये मंच उपलब्ध कराया जाएगा। इस संबंध में सुझाव के लिये राजवाड़ा कॉलिंग नाम से फेसबुक के पेज का विमोचन भी किया गया है। यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी द्वारा संबंधित व्यक्तियों के साथ की गयी बैठक में दी गयी। बैठक में इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »