इंदौर जिले को मिलेगा राष्ट्रीय पुरस्कार

इंदौर (IDS-PRO) भारत सरकार ने वर्ष 2014 में निःशक्तजनों के सशक्तीकरण कार्यों के लिये इंदौर जिले को राष्ट्रीय पुरस्कार के लिये चुना है। यह पुरस्कार राष्ट्र्पति श्री प्रणब मुखर्जी आगामी 3 दिसम्बर को नईदिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित समारोह में कलेक्टर श्री आकाष त्रिपाठी को प्रदान करेंगे। साथ ही भारत सरकार द्वारा सर्वश्रेष्ठ राज्य का राष्ट्रीय पुरस्कार मध्यप्रदेश को देने का निर्णय लिया गया है।

कलेक्टर श्री आकाष त्रिपाठी ने बताया कि वे यह पुरस्कार लेने के लिये 3 दिसम्बर को नईदिल्ली जायेंगे। उन्होंने बताया कि इंदौर जिले को यह पुरस्कार निःषक्तजनों के समग्र कल्याण के लिये किये गये कार्यों के लिये दिया जा रहा है। इंदौर जिले में निःषक्तजनों के पुनर्वास, षिक्षण, प्रषिक्षण, सषक्तिकरण, आवास आदि क्षेत्रों में किये गये उल्लेखनीय कार्यों के लिये मिल रहा है। भारत सरकार ने निःशक्तजन सशक्तिकरण कार्यों के वर्ष 2014 के राष्ट्रीय पुरस्कारों के लिये इंदौर जिले का चयन किया है। निःशक्तजन पुनर्वास कार्यों के लिये इंदौर जिले को राष्ट्रीय पुरस्कार दिया जायेगा। निःशक्तजन सशक्तिकरण कार्यों के लिये सर्वश्रेष्ठ रोल मॉडल के बतौर मध्यप्रदेश के दो व्यक्ति डॉ. रोहित त्रिवेदी भोपाल (दृष्टिबाधित) और सुश्री राबिया खॉन, इंदौर (दृष्टिबाधित) का चयन भी राष्ट्रीय पुरस्कार के लिये किया है। ये भी 3 दिसंबर को नई दिल्ली में समारोह में पुरस्कृत होंगे।

Review Overview

User Rating: Be the first one !

: यह भी पढ़े :

Anant Chaturdashi 2022

दो साल बाद अखाड़ों के साथ निकला झिलमिल झांकियों का कारवां

मुंबई के बाद प्रदेश में इंदौर ही ऐसा इकलौता शहर है, जहां गणेश उत्सव को …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »