इंदौर महोत्सव का रंगारंग शुभारंभ

इंदौर | जिला प्रशासन तथा इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल द्वारा आयोजित तीन दिवसीय इंदौर झील महोत्सव का आज शुभारंभ हुआ। इस महोत्सव का शुभारंभ नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने किया। इस अवसर पर महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, उपाध्यक्ष श्री हरिनाराण यादव, कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी, डीआईजी श्री राकेश गुप्ता उपस्थित थे। पहले दिन आज पिपल्यापाला रिजनल पार्क में आयोजित संगीत निशा में सुप्रसिद्ध पार्श्व गायक श्री शान अपने गीतों की प्रस्तुती दी।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि इंदौर कला एवं संस्कृति की राजधानी है। यह उत्सव प्रेमी शहर है। यहां कला एवं कलाकारों का हमेशा सम्मान किया जाता है। उन्होंने नागरिकों से स्वस्थ्य इंदौर-स्वच्छ इंदौर एवं हरित इंदौर बनाने का आव्हान किया। कार्यक्रम में महापौर श्रीमती मालिनी गौड़ ने कहा कि इस तरह के आयोजन से कला एवं संस्कृति का संवर्धन होता है। इस तरह के कार्यक्रम आगे भी जारी रहेंगे। कार्यक्रम के प्रारंभ में कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी ने स्वागत भाषण दिया।

महोत्सव के तहत आगामी 22 फरवरी तक चलने वाले इस महोत्सव के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ ही साहसिक खेलों के आयोजन किये जायेंगे। दूसरे दिन आज खण्डवा रोड स्थित देवी अहिल्या विश्वविद्यालय के सभाकक्ष में अखिल भारतीय कवि सम्मेलन आयोजित किया गया है। इस कवि सम्मेलन में देश के लब्ध प्रतिष्ठित कविगण अपनी रचनाओं की प्रस्तुतियां देंगे। महोत्सव में मालवा विशेष कर इंदौर के लजीज व्यंजनों पर आधारित फूड फेस्टिवल का आयोजन भी किया गया है। इसके अलावा शिल्प मेला भी लगाया गया है । चोरल डेम और पीपल्यापाला में महोत्सव के दौरान साहसिक और रोमांचकारी खेलों का आयोजन किया जा रहा है।

दूसरे दिन 21 फरवरी को शाम साढ़े 7 बजे विश्वविद्यालय के खण्डवा रोड स्थित सभाकक्ष में अखिल भारतीय कवि सम्मेलन आयोजित किया जायेगा। इस कवि सम्मेलन में देश के ख्यातनाम कवि श्री अशोक चक्रधर, श्री प्रदीप चौबे, श्री वसीम बरेलवी, श्री मुनव्वर राणा, श्री सत्यनारायण सत्तन सहित अन्य कवि अपनी रचनाओं की प्रस्तुतियां देंगे। कवि सम्मेलन का संचालन श्री संदीप शर्मा करेंगे।

महोत्सव के अंतिम दिन 22 फरवरी को सुबह इंदौर मेराथन दौड़ का आयोजन किया जायेगा। इस दौड़ में लगभग 25 से 30 हजार नागरिकों के शामिल होने की संभावना है। अंतिम दिन 22 फरवरी को ही शाम साढ़े 7 बजे रिजनल पार्क पिपल्यापाला में सुप्रसिद्ध गायिका सुश्री आकृति कक्कड़ की संगीत निशा होगी।
महोत्सव के दौरान तीनों दिन रिजनल पार्क पिपलियापाला में शिल्प मेला और फूड फेस्टिवल आयोजित होगा। शिल्प मेले में मध्यप्रदेश के प्रसिद्ध शिल्प कला और वस्त्रों का प्रदर्शन और विक्रय किया जाएगा। इसके साथ ही फूड फेस्टिवल भी आयोजित किया गया है। इस फूड फेस्टिवल में मालवा विशेषकर इंदौर के प्रसिद्ध व्यंजनों के साथ ही अन्य प्रसिद्ध व्यंजन भी नागरिकों को उपलब्ध कराये जायेंगे।
महोत्सव के दौरान तीनों दिन रिजनल पार्क पीपल्यापाला तथा चोरल डेम में साहसिक और रोमांचकारी खेलों का आयोजन भी किया जा रहा है। इसके अंतर्गत वाटर स्पोर्ट्स, पैरासीलिंग, पैरामोटर, रॉक/वॉल क्लाईविंग तथा अन्य एडवेंचर गतिविधियां होंगी।

इंदौर | जिला प्रशासन तथा इंदौर टूरिज्म प्रमोशन काउंसिल द्वारा आयोजित तीन दिवसीय इंदौर झील महोत्सव का आज शुभारंभ हुआ। इस महोत्सव का शुभारंभ नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने किया। इस अवसर पर महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, उपाध्यक्ष श्री हरिनाराण यादव, कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी, डीआईजी श्री राकेश गुप्ता उपस्थित थे। पहले दिन आज पिपल्यापाला रिजनल पार्क में आयोजित संगीत निशा में सुप्रसिद्ध पार्श्व गायक श्री शान अपने गीतों की प्रस्तुती दी। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »