ई-अटेंडेंस के मामले में कमिश्नर ने की बुरहानपुर और धार जिले की प्रशंसा

इंदौर (पारस जैन) राजस्व संभाग के कमिश्नर श्री संजय दुबे ने आज कमिश्नर कार्यालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये इंदौर संभाग के सभी जिलों के कलेक्टरों और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से रूबरू चर्चा कर स्वरोजगार और ग्रामीण विकास विभाग की योजनाओं में शीघ्रातिशीघ्र शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के निर्देश दिये। कमिश्नर श्री दुबे ने पंचायत चुनाव, समग्र स्वच्छता अभियान, मुख्यमंत्री आवास योजना, इंदिरा आवास योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना, मुख्यमंत्री युवाउद्यमी योजना, जलग्रहण मिशन, ई-अटेंडेंस, नामांतरण बटावारा आदि की बिन्दुवार समीक्षा की।

कमिश्नर श्री दुबे ने इस अवसर पर कलेक्टर्स और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों से कहा कि विभागीय योजना में शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के लिये आवश्यक राशि जारी करें। उन्होंने पंचायत चुनाव की समीक्षा करते हुए कहा कि जिले के वरिष्ठ अधिकारी पंचायत चुनाव के दौरान संवेदनशील मतदान केन्द्रों की पहले से ही पहचान कर लें और जिन जिलों पंचायत चुनाव में रिटर्निंग आफिसर की कमी है उसे चुनाव अधिसूचना से पूर्व पूर्ण कर ली जाए।

कमिश्नर श्री दुबे ने समग्र स्वच्छता अभियान की समीक्षा करते हुए कहा कि इस योजना के तहत पूर्व में जारी राशि का भौतिक सत्यापन जरूरी है। विशेष अभियान चलाकर सभी घरों में शौचालय बनाना जरूरी है। यह शौचालय मनरेगा, समग्र स्वच्छता अभियान, अनुसूचित जाति-जनजाति विशेष मद से एक विशेष अभियान चलाकर शीघ्र पूरे किये जा सकते हैं।

कमिश्नर श्री दुबे ने मुख्यमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी इस योजना के तहत शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करने के लिये ग्रामीण क्षेत्रों का दौरा करें और मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत बन रहे आवासों की प्रगति की समीक्षा करें। इस योजना के तहत खण्डवा जिले की प्रगति की उन्होंने प्रशंसा की।

कमिश्नर श्री दुबे ने स्वरोजगार योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना और मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत हितग्राहियों को ऋण वितरण करने में कोई कोताही न बरती जाए। ये योजनाएं राज्य शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाएं हैं। इन योजनाओं में शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल होना जरूरी है। इसकी तैयारी अभी से कर ली जाए, जिससे 31 मार्च,2015 तक शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल करने में कोई कठिनाई न आए।

कमिश्नर श्री दुबे ने एकीकृत जल ग्रहण मिशन की समीक्षा करते हुए कहा कि संभाग में जल ग्रहण मिशन के कारण निश्चित रूप से सिंचाई रकबा बढ़ा है और फलचक्र में भी परिवर्तन आया है तथा किसानों की माली हालत भी सुधरी है। सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत इसकी वीडियो रिकार्डिंग करवाएं।

शिक्षकों को ई-अटेडेंस की समीक्षा करते हुए उन्होंने कलेक्टरों से कहा कि राज्य शासन के निर्देशानुसार और शिक्षा के क्षेत्र में गुणात्मक सुधार के लिये शिक्षकों की विद्यालयों में समय पर उपस्थिति अनिवार्य है। इस क्षेत्र में बुरहानपुर और धार जिले ने अच्छा काम किया है। शेष जिलों में और अधिक प्रशासनिक कसावट की सख्त जरूरत है।

कमिश्नर श्री दुबे ने राजस्व विभाग की समीक्षा करते हुए कहा कि नामांतरण-बटंवारा के आवेदन आने पर हितग्राही किसानों को आवेदन की पावती जरूर दी जाए तथा लम्बित प्रकरणों का समय-सीमा में निराकरण किया जाए। अविवादित नामांतरण और बटवारे के प्रकरण में अनावश्यक विलम्ब न किया जाए। इसी प्रकार डायवर्सन के मामले में डायवर्सन करने के बाद उसका रिकार्ड संधारित किया जाए। तहसीलों में दायरा पंजी और अर्थदण्ड पंजी अनिवार्य रूप से संधारित की जाए। सभी एसडीएम और राजस्व निरीक्षक अपने क्षेत्राधिकार में ही काम करें। पूरे जिले की जिम्मेदारी संभालना नियमानुसार सही नहीं है। इस अवसर पर वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान कमिश्नर श्री दुबे के साथ संयुक्त आयुक्त श्रीमती चेतना फौजदार और उपायुक्त श्रीमती संघमित्रा गौतम भी मौजूद थीं।

Review Overview

User Rating: Be the first one !

: यह भी पढ़े :

Anant Chaturdashi 2022

दो साल बाद अखाड़ों के साथ निकला झिलमिल झांकियों का कारवां

मुंबई के बाद प्रदेश में इंदौर ही ऐसा इकलौता शहर है, जहां गणेश उत्सव को …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »