चुनाव में गड़बड़ी फैलाने वालों के विरूद्ध सख्ती के साथ कार्यवाही

शिवपुरी (IDS-PRO) कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री राजीव दुबे ने त्रि-स्तरीय पंचायतों के निर्वाचन के तहत द्वितीय एवं तृतीय चरण के मतदान के दौरान की जाने वाली कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि संवेदनशील मतदान केन्द्र एवं ऐसे क्षेत्र जहां मतदान के दौरान पूर्व में घटना घटित हुई है, उन क्षेत्रों पर विशेष निगरानी एवं सर्तकता रखें।

जिला कलेक्टर श्री दुबे ने उक्त आशय के निर्देश आज जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में द्वितीय एवं तृतीय चरण के पंचायत निर्वाचन के दौरान की जाने वाली कानून व्यवस्था के संबंध में प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक में दिए। बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक श्री एम.एल.छारी, अपर कलेक्टर श्री जेड.यू.शेख, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आलोक सिंह, संयुक्त कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती नीतू माथुर, अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी श्री डी.के.जैन, कोलारस श्री बी.पी.माथुर, पिछोर श्री अश्विनी रावत, करैरा श्री ए.के.चांदिल, पोहरी श्री जी.एस.बघेल सहित रिटर्निंग अधिकारी एवं पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलेक्टर श्री दुबे ने द्वितीय एवं तृतीय चरण के पंचायत निर्वाचन के दौरान कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसे असामाजिक तत्व जो मतदान के दिन किसी प्रकार की गड़बड़ी कर सकते है, उन असामाजिक तत्वों की अभी से पहचान कर सख्ती के साथ कार्यवाही करें।

उन्होंने प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे संयुक्त रूप से अनुविभगीय दण्डाधिकारी एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस तथा संबंधित तहसीलदार और संबंधित क्षेत्र के थाना प्रभारी संयुक्त रूप से क्षेत्र का भ्रमण करें और किसी प्रकार की स्थिति निर्मित होने पर तत्काल कार्यवाही करें। उन्होंने अधिकारियों को धारा 120 और धारा 122 के तहत प्रभावी कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए। श्री दुबे ने कहा कि ऐसे पंचायत क्षेत्र जहां किसी प्रकार की घटना की आशंका है, उन पंचायत क्षेत्रों में विशेष ध्यान रखें और पूरी सर्तकता बरतें। उन्होंने निर्देश दिए कि असमाजिक तत्वों या चुनाव में गड़बड़ी करने वालों के विरूद्ध बिना किसी दबाव एवं भेद्भाव के सख्ती के साथ कार्यवाही करें। श्री दुबे ने कहा कि जिला की सीमा राजस्थान एवं उत्तरप्रदेश से होने के कारण सीमा की पंचायतों पर विशेष निगरानी एवं सर्तकता बरतें।

पुलिस अधीक्षक श्री एम.एल.छारी ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी आपसी समन्वय बनाकर संयुक्त रूप से क्षेत्र का भ्रमण करें। किसी भी प्रकार का कम्यूनिकेशन गेप न रखें। उन्होंने थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि प्रत्येक माइक्रों बीट प्रभारी आरक्षक सतत् रूप से क्षेत्र का भ्रमण कर क्षेत्र में होने वाले वाली गतिविधियों की जानकारी थाना प्रभारी तक भेजना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जनपद स्तर पर रिजर्व बल की भी व्यवस्था की जाएगी। आबकारी एक्ट के तहत भी सख्ती के साथ कार्यवाही करें।

उल्लेखनीय है कि त्रि-स्तरीय पंचायत निर्वाचन 2014-15 के अंतर्गत द्वितीय एवं तृतीय चरण में जिले के कुल 6 लाख 42 हजार 332 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। जिसमें पुरूष मतदाता 3 लाख 46 हजार 768 तथा 2 लाख 95 हजार 564 महिला मतदाता शामिल है।

शिवपुरी (IDS-PRO) कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री राजीव दुबे ने त्रि-स्तरीय पंचायतों के निर्वाचन के तहत द्वितीय एवं तृतीय चरण के मतदान के दौरान की जाने वाली कानून व्यवस्था की समीक्षा करते हुए प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि संवेदनशील मतदान केन्द्र एवं ऐसे क्षेत्र जहां मतदान के दौरान पूर्व में घटना घटित हुई है, उन क्षेत्रों पर विशेष निगरानी एवं सर्तकता रखें। जिला कलेक्टर श्री दुबे ने उक्त आशय के निर्देश आज जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में द्वितीय एवं तृतीय चरण के पंचायत निर्वाचन के दौरान की जाने वाली कानून व्यवस्था के संबंध में प्रशासनिक एवं…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »