Indore Dil Se - News

छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई परियोजना निमाड़ क्षेत्र के लिए वरदान – मुख्यमंत्री

इंदौर (आई.डी.एस.) मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई परियोजना निमाड़ क्षेत्र के किसानों के लिए वरदान सिद्ध होगी। श्री चौहान शुक्रवार को इंदौर संभाग के खण्डवा जिले के छैगांवमाखन में लगभग 750 करोड़ रूपये लागत की उद्वहन सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री श्री विजय शाह, नर्मदा घाटी विकास विभाग के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री लालसिंह आर्य, क्षेत्रीय सासंद श्री नंदकुमार सिंह चैहान, क्षेत्रीय विधायक श्रीमती योगिता बोरकर, मांधाता विधायक श्री लोकेन्द्र तोमर, खण्डवा विधायक श्री देवेन्द्र वर्मा, बड़वाह विधायक श्री हितेन्द्र सोलंकी, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती हसीना बाई विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर संबोधित करते हुये कहा कि छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई परियोजना नई तकनीक से तैयार की गई है जिसमें नहरों के स्थान पर पाईप लाईन के माध्यम से खेत खेत तक पानी पहॅुंचेगा और निमाड़ क्षेत्र के किसानों के जीवन में खुशहाली आयेगी। उन्होंने क्षेत्रीय सांसद श्री नंदकुमार सिंह चैहान के अनुरोध पर घोशणा की कि छैगांवमाखन क्षेत्र के जो गांव इस योजना में अभी शामिल नही हो पाये है उन्हें भी शीघ्र ही शामिल किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि निमाड़ क्षेत्र के 5.37 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की व्यवस्था के लिए छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई योजना के साथ साथ सिहाड़ा – जावर उद्वहन सिंचाई परियोजना, भीकनगांव – एदलवाड़ा उद्वहन सिंचाई परियोजना भी स्वीकृत की गई है, जिससे इस क्षेत्र के किसानों की दशा ही बदल जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खेती को लाभ का धंधा बनाने तथा किसानों के कल्याण के लिए दिन रात प्रयासरत है, इसी उद्देष्य से कृषि ऋण पर ब्याज की दर 18 प्रतिशत से कम करते हुये शून्य प्रतिशत तक कर दी गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर उपस्थित ग्रामीणों से कहा कि मॉं नर्मदा का जल उनके खेतो तक आने से किसानों के जीवन में खुशहाली आयेगी। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों का भी दायित्व है कि मॉं नर्मदा को प्रदूषित न करें तथा नर्मदा तट पर वृक्ष अधिक से अधिक संख्या में लगाये जाये ताकि नर्मदा नदी में हर समय भरपूर पानी उपलब्ध रहे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उपस्थित ग्रामीणों को अपने अपने घरो में शौचालय बनवाने , नशा नहीं करने , बेटीयों को शिक्षित करने तथा बेटा – बेटियों में भेद न करने का संकल्प भी इस अवसर पर दिलाया। उन्होंने कहा कि नर्मदा तट पर स्थित शहरों में वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट लगाकर शहरों का गंदा पानी नर्मदा नदी में मिलने से रोकने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि अगले माह खण्डवा जिले में आने वाली नर्मदा सेवा यात्रा का गांव- गांव में ऐतिहासिक स्वागत किया जाये। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने अपने संबोधन में कहा कि राजस्व पुस्तक परिपत्र में सुधार करते हुये प्राकृतिक आपदा से फसल हानि होने पर पहले से कई गुना अधिक राहत किसानों को दी जाने लगी है। उन्होंने इस अवसर पर बताया कि फसल बीमा योजना के तहत खण्डवा जिले के किसानों को 171 करोड़ रूपये की मदद स्वीकृत हुई है जो शीघ्र ही किसानों के खातों में जमा की जा रही है।

नर्मदा घाटी विकास राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री आर्य ने इस अवसर पर संबोधित करते हुये कहा कि मध्य प्रदेश की स्थापना के 50 वर्ष बाद तक प्रदेश में जितने विकास कार्य नहीं हुये थे उससे अधिक विकास कार्य गत 10 वर्षों में मुख्यमंत्री श्री चैहान के नेतृत्व में प्रदेश में किये जा चुके है। उन्होंने इस अवसर पर छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई परियोजना के बारे में बताते हुए कहा कि इस योजना के तहत सिंचाई पाईप लाईन के माध्यम से की जायेगी, जिससे कि नर्मदा के पानी की एक-एक बूंद किसानों के सिंचाई के काम आ सकेगी तथा भू-अर्जन भी कम से कम करना पड़ेगा। इस परियोजना के तहत प्रत्येक 2.50 हेक्टेयर चक पर एक आउटलेट दिया जायेगा , जिससे कम से कम 20 मीटर का प्रेशर उपलब्ध होगा। इसकी मदद से किसान ड्रिप पद्धति से अथवा स्प्रिंकलर के माध्यम से अपने खेत की सिंचाई कर सकेगे, जिससे कम पानी से किसानों को खेत में अधिक उत्पादन हो सकेगा। इस परियोजना का निर्माण कार्य लार्सन एण्ड टुब्रो लिमिटेड चैन्नई को आवंटित किया गया है, जिसकी अनुबंध राशि 536.99 करोड़ रूपये है, इस परियोजना को कुल 36 माह में पूर्ण किया जाना प्रस्तावित है।

क्षेत्रीय सांसद श्री नंदकुमार सिंह चैहान ने संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने वर्ष 2014 में संकल्प लिया था कि नर्मदा के जल को छैगांवमाखन क्षेत्र के किसानों के खेतों तक लाऊॅंगा। आज यह संकल्प मुख्यमंत्री श्री चैहान के सहयोग से पूरा हो गया है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री जी का आभार प्रकट किया। इससे पूर्व क्षेत्रीय विधायक श्रीमती बोरकर ने अपने स्वागत उद्बोधन में छैगांवमाखन जैसे जल अभाव ग्रस्त क्षेत्र में नर्मदा जल से खेत-खेत में सिंचाई जैसे असंभव कार्य को संभव बनाने के लिए मुख्यमंत्री श्री चैहान एवं क्षेत्रीय सांसद श्री नंदकुमार सिंह चैहान का आभार प्रकट किया।

इंदौर (आई.डी.एस.) मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि छैगांवमाखन उद्वहन सिंचाई परियोजना निमाड़ क्षेत्र के किसानों के लिए वरदान सिद्ध होगी। श्री चौहान शुक्रवार को इंदौर संभाग के खण्डवा जिले के छैगांवमाखन में लगभग 750 करोड़ रूपये लागत की उद्वहन सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे। कार्यक्रम में स्कूल शिक्षा मंत्री श्री विजय शाह, नर्मदा घाटी विकास विभाग के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री लालसिंह आर्य, क्षेत्रीय सासंद श्री नंदकुमार सिंह चैहान, क्षेत्रीय विधायक श्रीमती योगिता बोरकर, मांधाता विधायक श्री लोकेन्द्र तोमर, खण्डवा विधायक श्री देवेन्द्र…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »