क्वॉरेंटाइन के सेंटर बढ़ेंगे, 7 दिन अभी और कर्फ्यू – कलेक्टर

इंदौर : इंदौर में 17 नए मरीज के सामने आने के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने रेजिडेंसी कोठी पर सभी अधिकारियों की बैठक ली। बैठक के बाद उन्होंने साफ कर दिया कि इंदौर अगले सात दिनों तक इस तरह की सख्ती के लिए तैयार रहें। जो व्यवस्था भी चल रही है, वह चलती रहेगी।

कलेक्टर ने कहा – करीब साढ़े 400 लोग क्वॉरेंटाइन में रखे गए हैं, जिसमें से 285 के सैंपल अभी जांच के लिए भेजे गए हैं। यह संख्या अभी और बढ़ेगी। हो सकता 2 से ढाई सौ तक पॉजिटिव मरीज इंदौर में सामने आएं, लेकिन हम इसके लिए मानसिक रूप से तैयार हैं। जो भी मरीज चिन्हित हो रहे हैं, हम उनके करीबियों को क्वॉरेंटाइन हाउस में पहुंचा रहे हैं, उनकी जांच करा रहे हैं।

शहर में मंगलवार को 17 और मरीजों में कोरोना की पुष्टि होने के बाद प्रशासन ने आपात बैठक बुलाई। बैठक में लिए आगे की परिस्थितियों को देखते हुए काम करने को कहा गया। कलेक्टर मनीष सिंह ने स्पष्ट कहा है कि प्रशासन हर परिस्थिति का सामना करने में सक्षम है। कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आने के पहले ही कोरोना संदिग्धों को क्वाॅरेंटाइन होम में सुरक्षित कर दिया गया था। इनका इलाज वहीं पर चल रहा है। उन्होंने लोगों से निर्देशों का पालन करने को कहा। साथ ही यह भी बताया की दूध के लिए घरों में जाकर आपूर्ति की व्यवस्था चालू कर दी गई है।

कलेक्टर ने बताया कि कोरोना से बचाव का केवल एक ही रास्ता है और वह है लोग अपने घर में ही रहे।
सर्दी, खांसी वाले भी अब क्वाॅरेंटाइन होंगे
कलेक्टर ने बताया कि हमारे द्वारा पिछले दिनों क्वारेंटाइन किए गए मरीजों में से कुछ और की रिपोर्ट पॉजिटिव आ सकती है, लेकिन इसका एक पहलू यह है कि क्वारेंटाइन किए गए मरीजों में लगातार सुधार हो रहा है। हमारे लिए रानीपुरा, हाथीपाला, और नयापुरा जैसे क्षेत्र चुनौतिपूर्ण हैं, लेकिन इस चुनौती से निपटने के लिए हम तैयार हैं। नए केस की लिस्ट आने के बाद इनके परिवार या रिश्ते में बचे हुए लोगों को भी क्वॉरेंटाइन किया जाएगा। हमने सर्वे टीम को मैदान में उतार दिया है। यदि किसी को सर्दी, खांसी भी होगी ताे उसे भी क्वाॅरेंटाइन किया जाएगा।

कल लिए गए 140 सैंपल जांच के लिए भेजे
सीएमएचओ डॉ. प्रवीण जड़िया ने बताया कि इंदौर में मंगलवार को जो 17 पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ये वे हैं जिनके परिजन पहले से ही इस बीमारी की चपेट में हैं। संदिग्ध लगने पर इन्हें क्वॉरेंटाइन कर इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। भोपाल से हमारे द्वारा भेजे गए 40 सैंपल में यह आंकड़ा आया है। इन्हें मिलाकर इंदौर में अब पॉजिटिव की संख्या 44 हो गई है। हालांकि इनकी अभी लिस्ट नहीं आई है कि ये इंदौर के हैं या आसपास के जिलों के भी मरीज इनमें शामिल हैं। इनमे से तीन की मौत हो गई है। हमने सोमवार को 140 सैंपल लिए थे। इसके पहले 144 लिए जा चुके थे। इस तरह से हमने अब तक 300 के करीब सैंपल लिए हैं। कल लिए गए सैंपल को आज जांच के लिए भेजा गया है। करीब डेढ़ सौ सैंपल की रिपोर्ट आनी बाकी है। वहीं, उज्जैन के पांच मरीजों को मिलने पर यह संख्या 49 हो जाती है। प्रदेश में अब तक 64 मरीज हो चुके हैं। जड़िया के अनुसार पिछले दो दिनों से क्वॉरेंटाइन करने की संख्या बढ़ा दी गई है। अभी करीब 400 लोग क्वॉरेंटाइन में हैं। इसमें से कुछ पहली और कुछ दूसरी स्टेज में हैं। ये जो पाॅजिटिव आए हैं ये क्वारेंटाइन से ही आए हैं। यदि ये क्षेत्र में रहते तो संख्या और बढ़ती। समाज में यह नहीं फैले इसके लिए और ज्यादा क्वारेंटाइन किया जाएगा।

मप्र में कोरोना की स्थिति
पॉजिटिव – 66
मौत – 5
इंदौर – 44 (मौत -2)
जबलपुर – -8
भोपाल – 5
शिवपुरी – 2
उज्जैन – 5 (मौत -2)
ग्वालियर – 2
इंदौर देश में चौथे नंबर पर
कासरगोड, केरल – 107
दिल्ली – 97
मुंबई – 76
इंदौर 49
कन्नू – 44
पुणे – 44

इंदौर : इंदौर में 17 नए मरीज के सामने आने के बाद कलेक्टर मनीष सिंह ने रेजिडेंसी कोठी पर सभी अधिकारियों की बैठक ली। बैठक के बाद उन्होंने साफ कर दिया कि इंदौर अगले सात दिनों तक इस तरह की सख्ती के लिए तैयार रहें। जो व्यवस्था भी चल रही है, वह चलती रहेगी। कलेक्टर ने कहा - करीब साढ़े 400 लोग क्वॉरेंटाइन में रखे गए हैं, जिसमें से 285 के सैंपल अभी जांच के लिए भेजे गए हैं। यह संख्या अभी और बढ़ेगी। हो सकता 2 से ढाई सौ तक पॉजिटिव मरीज इंदौर में सामने आएं, लेकिन हम इसके…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »