Indore Dil Se - News

लोकसभा अध्यक्ष ने इंदौर पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र का उद्घाटन किया

इंदौर (आई.डी.एस.) इंदौर तथा उज्जैन संभाग के 15 जिलों के लिये इंदौर में आज पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र के रूप में बड़ी सौगात मिली। लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने इंदौर में आयोजित गरिमामय समारोह में पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र का उद्घाटन किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने की। कार्यक्रम में विदेश राज्य मंत्री डॉ.व्ही.के.सिंह विशेष अतिथि के रूप में मौजूद थे। इस मौके पर महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कविता पाटीदार, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, विधायकगण श्री सुदर्शन गुप्ता, श्री महेन्द्र हार्डिया, श्री मनोज पटेल, सचिव विदेश मंत्रालय श्री ज्ञानेश्वर मूले भी विशेष रूप से उपस्थित थे।

इंदौर में उद्घाटन के साथ ही भारत सरकार के विदेश मंत्रालय द्वारा पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र ने अपना काम शुरू कर दिया है। इस केन्द्र की स्थापना से मालवांचल की बहुप्रतीक्षित मांग पूरी हुई है। इस केन्द्र का लाभ इंदौर और उज्जैन संभाग के सभी 15 जिलों के पासपोर्ट आवेदकों को मिलेगा। प्रारंभ में प्रतिदिन 100 अपाईमेंट जारी किये जायेंगे। इसके बाद मांग अनुसार इसे लगातार बढ़ाया जायेगा। पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र इंदौर को 600 से 700 आवेदन प्रोसेसिंग क्षमता के अनुसार बनाया गया है। यह लघु केन्द्र पासपोर्ट सेवा केन्द्र की तरह ही कार्य करेगा और आवेदन की जांच के साथ ही उनकी स्वीकृति भी एक कार्य दिवस में पूरी हो जायेगी। सहायक पासपोर्ट अधिकारी इस केन्द्र के प्रभारी होंगे।

Indore Dil Se - Newsकार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने कहा कि इस केन्द्र की स्थापना सतत प्रयासों का सुपरिणाम है। इस केन्द्र को इंदौर में खुलवाने के लिये लगातार प्रयास किये गये हैं। इन प्रयासों को आज सफलता मिली। उन्होंने कहा कि केन्द्र की स्थापना में विदेश मंत्री श्रीमती सुषमा स्वराज का अहम योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि अब हम इंदौर एयरपोर्ट को अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट बनाने के लिये भी आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इंदौर में पासपोर्ट सेवा केन्द्र शुरू करने के संबंध में नागरिकों की लंबे समय से मांग थी। यह मांग आज पूरी हो गयी है।

जबलपुर,ग्वालियर, सतना और विदिशा में भी शुरू होंगे लघु पासपोर्ट सेवा केन्द्र

Indore Dil Se - Newsकार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने इस केन्द्र की स्थापना के लिये लोकसभा अध्यक्ष सहित केन्द्र शासन का आभार व्यक्त किया और कहा कि केन्द्र शासन के प्रयासों से मध्यप्रदेश को नित नई सुविधायें मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 1978 में जब श्री अटलबिहारी बाजपेयी विदेश मंत्री थे, उनके प्रयासों से भोपाल में पासपोर्ट सेवा केन्द्र की स्थापना की गयी। लंबे अंतराल के बाद इंदौर में लघु पासपोर्ट सेवा केन्द्र वर्तमान केन्द्र शासन के प्रयासों से खुला है। उन्होंने कहा कि केन्द्र शासन ने निर्णय लिया है कि मध्यप्रदेश के जबलपुर, ग्वालियर, सतना तथा विदिशा में भी पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जायेंगे, परंतु हमारा प्रयास रहेगा कि इस तरह के केन्द्र प्रदेशों के अन्य शहरों में भी खोले जायें। इन केन्द्रों की स्थापना के लिये राज्य शासन द्वारा हर संभव मदद दी जायेगी। उन्होंने कहा कि पासपोर्ट सेवा केन्द्रों का विस्तार समय की मांग है।

केन्द्रीय विदेश राज्य मंत्री डॉ.व्ही.के.सिंह ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये कहा कि इस केन्द्र का खुलना इंदौरवासियों के लिये गौरव की बात है। पासपोर्ट सेवा अब आम नागरिकों के लिये बड़ी जरूरत बनती जा रही है। हमारा प्रयास है कि इन जरूरतों को पूरा करने के लिये पासपोर्ट सेवा केन्द्रों का विस्तार किया जाये। हम पासपोर्ट सेवा केन्द्रों का लगातार विस्तार कर रहे हैं। बड़ी संख्या में नये पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जा रहे हैं। मध्यप्रदेश में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में जबलपुर, ग्वालियर, विदिशा और सतना में पासपोर्ट सेवा केन्द्र खोले जायेंगे। हमारा प्रयास है कि जिलों के मुख्य डाक घरों में भी पासपोर्ट सेवायें शुरू की जायें। हमारे द्वारा पासपोर्ट सेवा के कार्यों में पारदर्शिता लायी गयी है और इस सेवा को जनहितैषी बनाया गया है। पासपोर्ट बनाने का कार्य पूरी तरह ऑनलाइन किया जा रहा है और पासपोर्ट बनने में लगने वाले समय को भी बेहद कम कर दिया गया है।

कार्यक्रम के प्रारंभ में विदेश मंत्रालय के सचिव श्री ज्ञानेश्वर मूले में स्वागत भाषण देते हुये पासपोर्ट सेवा केन्द्रों के विस्तार के लिये किये जा रहे प्रयासों की जानकारी दी। उन्होंने पासपोर्ट बनाने के लिये किये गये सुधारों की जानकारी दी और कहा कि पासपोर्ट बनाने के लिये देशव्यापी अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान के तहत प्रयास किये जा रहे हैं कि देश के अधिकांश लोगों के पासपोर्ट हो। अभी वर्तमान में पूरे देश में मात्र 6 से 7 करोड़ लोगों के पास ही पासपोर्ट हैं। वर्तमान में केन्द्र शासन द्वारा प्रतिवर्ष एक करोड़ से सवा करोड़ पासपोर्ट बनाये जा रहे हैं। सप्ताह के कार्यदिवसों के साथ-साथ सप्ताहंत के शनिवार और रविवार को भी पासपोर्ट बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पासपोर्ट सेवा केन्द्रों के विस्तार से नागरिकों के समय, पैसे और असुविधाओं कीे बचत होगी।

लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती महाजन, विदेश राज्य मंत्री डॉ.व्ही.के.सिंह, मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने प्रारंभ में फीता काटकर पासपोर्ट लघु सेवा केन्द्र का उद्घाटन किया। उद्घाटन के पश्चात उन्होंने भवन का अवलोकन किया और नागरिकों के लिये उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली। अतिथियों ने इस केन्द्र की स्थापना में इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी द्वारा दिये गये सहयोग की सराहना की। उन्होंने कहा कि इंदौर विकास प्राधिकरण ने नागरिकों की हर जरूरत का ध्यान रखकर पासपोर्ट सेवा केन्द्र में सुविधायें उपलब्ध करायी हैं।

इंदौर का पासपोर्ट कार्यालय कहां स्थित है ?

नया पासपोर्ट कार्यालय स्कीम नंबर 140 में स्थित है। वर्ल्ड कप चौराहा (पिपल्याहाना चौराहा) से बायपास के  लिए जो रास्ता जाता है, वहीं पर यह कार्यालय स्थित है। रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड से आने वाले लोग स्कीम नंबर 140 में स्थित कार्यालय तक पहुंचने  के लिए पहले एमवाय अस्पताल, फिर शिवाजी प्रतिमा से सीधा रोड पकड़े। यह रास्ता कृषि महाविद्यालय होता हुआ वर्ल्ड कप  चौराहे जाता है। वर्ल्ड कप  चौराहे से बायपास की तरफ जा रहे रास्ते पर अग्रवाल पब्लिक स्कूल के समीप ही है ‘आनंद वन’। यानी पिपल्याहाना तालाब के ठीक पास नया पासपोर्ट  कार्यालय बनाया गया है।

ऑनलाइन पासपोर्ट के लिए आवेदन कैसे करें ?

पासपोर्ट बनवाने के लिए सबसे पहले पासपोर्ट सेवा पोर्टल पर खुद को रजिस्टर करना होगा। इसके लिए पासपोर्ट सेवा पोर्टल की वेबसाइट… http://www.passportindia.gov.in/AppOnlineProject/welcomeLink पर जाएं। पेज पर register now के लिंक पर  क्लिक करें। रजिस्टर करें। इसमें अपनी डिटेल्स भरें। इसके बाद आपको ई-मेल आईडी पर लॉगिन आईडी मिल जाएगी। वापस होम पेज पर जाएं।
इसके पश्चात आपको अपने अकाउंट को एक्टिवेट करना होगा। इसके लिए आप अपने ई-मेल पर पासपोर्ट कार्यालय से मेल में आए लिंक पर क्लिक करके  अपने अकाउंट को एक्टिवेट करें। लॉगिन करने के लिए यूजर आईडी भरें और फिर पासवर्ड डालें। यहां आपको दो ऑप्शन मिलेंगे अप्लाई फॉर फ्रेश पासपोर्ट (Apply For Fresh Passport) तथा री-इश्यू ऑफ पासपोर्ट Re-issue of Passport), अपनी आवश्यक के अनुसार संबंधित लिंक पर क्लिक करें।

पहली बार पासपोर्ट बनवाने के लिए अप्लाई फॉर फ्रेश पासपोर्ट पर क्लिक करें। ऑनलाइन पासपोर्ट आवेदन करने के लिए अप्लाई करने के बाद आपके  सामने एक फॉर्म आएगा। इसमें कई जानकारियां मांगी जाएंगी। ध्यान रहे कि इस फॉर्म को सावधानी से और सही जानकारी से भरना होता है। यदि फॉर्म  भरने में गलती हुई तो पासपोर्ट रिजेक्ट भी हो सकता है और एक बार पासपोर्ट की प्रक्रिया रिजेक्ट होने पर दोबारा पासपोर्ट के लिए आवेदन करने में समय लग सकता है।

फॉर्म को सेव करने का फायदा ?

ऑनलाइन पासपोर्ट आवेदन में तमाम जानकारी भरने के बाद फॉर्म को सेव कर दें। इसका एक फायदा यह भी है कि यदि आपके पास कोई जानकारी नहीं है तो सेव करने के बाद आप इस पेज को यूजर आईडी और पासवर्ड डालकर कभी भी खोल सकते हैं। इसके पश्चात अगले पेज पर क्लिक करें। इसमें पारिवारिक जानकारी, पूर्ण पता और इमरजेंसी कॉन्टैक्ट की जानकारी दर्ज करें। इसे सेव करें और अगले चरण के लिए  आगे क्लिक करें।

पासपोर्ट के लिए भुगतान राशि और मिलने का समय (अपाइंटमेंट) निर्धारण करने के लिए ‘व्यू सेव्ड/सबमिटेड एप्लिकेशन्स’ (View Saved/Submitted  Applications) स्क्रीन पर ‘पे एंड शेड्यूल अप्वाइंटमेंट’ (Pay and Schedule Appointment) लिंक पर क्लिक करें और अपना मिलने का समय बुक करें।

इस फॉर्म को सब्मिट करने के बाद आपके सामने एक विंडो खुलेगी। यहां आपको पासपोर्ट बनवाने की पासपोर्ट बनवाने की राशि का भुगतान करना होगा है। यह भुगतान आप  क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग या फिर एसबीआई बैंक के चालान से कर सकते हैं। घबराएं नहीं यह पूर्णत: सुरक्षित हैं। याद रखें कोई भी  ऑनलाइन वित्तीय लेन-लेन करते समय वेब एड्रैस https:/ जरूर जांच लें।

पासपोर्ट के लिए जरूरी दस्तावेज ?

अगर आप पासपोर्ट के लिए आवेदन कर रहे हैं तो आपके पास इन दस्तावेजों का होना जरूरी है।

  • पासपोर्ट के लिए आवेदन करते समय दस्तावेजों की दो कॉपियां आवश्यक होती हैं।
  • स्थायी पते का प्रमाण-पत्र (इनमें से कोई भी एक आवश्यक) : इसके लिए आवेदनकर्ता का राशन कार्ड, पानी, बिजली, व टेलीफोन का बिल, निर्वाचन  कार्ड। अगर आपकी उम्र 18 साल से कम है तो माता-पिता के पासपोर्ट की कॉपी स्थायी पते के रूप में मान्य की जाती है।
  • जन्मतिथि का प्रमाण (इनमें से कोई भी एक आवश्यक) : नगर प्राधिकरण व रजिस्टार के के द्वारा जारी किया गया जन्म प्रमाण-पत्र, 10वीं या 12वीं कक्षा  की मार्कशीट जिसमें जन्म तारीख हो।
  • ईसीएनआर स्टेटस के आधार पर पासपोर्ट प्राप्त करने के लिए 10वीं की मार्कशीट या डिग्री सर्टिफिकेट या डिप्लोमा सर्टिफिकेट लगा सकते हैं या इसके  अलावा पैन कार्ड भी लगा सकते हैं। अगर आवेदनकर्ता विवाहित है तो उसे विवाह प्रमाण-पत्र भी लगाना होगा।
  • स्थायी निवास प्रमाणपत्र को भी जमा करना आवश्यक होता है।
  • पासपोर्ट बनवाने के लिए फीस : 18 साल या उससे ज्यादा उम्र के व्यक्ति के लिए फीस 1500 रुपए निर्धारित की गई है। अगर आवेदक की उम्र 18  साल से कम है तो 1000 रुपए फीस जमा करनी होगी।

अगर कोई व्यक्ति पते के प्रमाण-पत्र के रूप में राशनकार्ड जमा करता है तो उसे ऊपर दिए गए विकल्पों में से एक को चुनकर राशन कार्ड के साथ जमा करना होगा

भुगतान की प्रक्रिया पूरी होने के बाद प्रिंट एप्लिकेशन रिसीप्ट लिंक पर क्लिक करें और अपने आवेदन का प्रिंट लें। इसमें  आपका एप्लिकेशन रेफरेंस नंबर और अपॉइंटमेंट नंबर होता है। एक बार समय मिलने पर आपको पासपोर्ट ऑफिस जाना होता है। याद रखें कि यहां सभी दस्तावेजों की जांच होती है। ऐसे में अपने असली दस्तावेज, ऑरिजनल डॉक्यूमेंट साथ लेकर जाएं। पासपोर्ट केंद्र में सभी प्रकिया के पूरा होने के लगभग 7 कार्यालयीन दिवसों में आपका पासपोर्ट आपके घर आ जाएगा। यहीं नहीं आप पासपोर्ट की ऑनलाइन कॉपी भी निकाल सकते हैं।

इंदौर (आई.डी.एस.) इंदौर तथा उज्जैन संभाग के 15 जिलों के लिये इंदौर में आज पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र के रूप में बड़ी सौगात मिली। लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने इंदौर में आयोजित गरिमामय समारोह में पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र का उद्घाटन किया। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान ने की। कार्यक्रम में विदेश राज्य मंत्री डॉ.व्ही.के.सिंह विशेष अतिथि के रूप में मौजूद थे। इस मौके पर महापौर श्रीमती मालिनी गौड़, जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कविता पाटीदार, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी, विधायकगण श्री सुदर्शन गुप्ता, श्री महेन्द्र हार्डिया, श्री…

Review Overview

User Rating: Be the first one !

One comment

  1. इंदौर को मिली पासपोर्ट सेवा लघु केन्द्र की सौगात

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »