Festivals

India presents a cultural potpourri of number of religions with their own festivals and celebrations but the four major religions followed in India are Hinduism, Islam, Christianity and Sikhism in the descending order. There are a number of regional festivals which are celebrated in particular areas only. Bright colors, brightly lit religious places, illuminated houses, sweets and traditional dresses and dances and unwavering enthusiasm are the characteristics of all the festival holidays in India. Cuisine, dresses and ornaments, especially of the Indian women, with the profusion of golden, red and yellow colors, cultural and traditional performances and music, chariot and car procession of the deities and interesting folklores give the Indian festivals their universal appeal. The concept of universal brotherhood encompasses all the festivals of India and the vibrant colors, warm hospitality and infectious buoyant spirit of the Indians attract people from all over the world to take part in the Indian fairs and festivals.

चंदेरी का ऐतिहासिक जागेश्वरी मंदिर

Indore Dil Se - Historical Place

ॐ सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके शरण्ये त्रयम्बके गौरी नारायणी नमोस्तुते !! चंदेरी एक इतिहासों की नगरी है जो की मध्य प्रदेश के अशोक नगर जिले में स्थित है । पूरा चंदेरी शहर तालाब, घने जंगल और खूबसूरत पहाड़ियों से घिरा हुआ है और इसके अलावा आपको बुंदेला और मालवा राजपूतों के ऐतिहासिक स्मारक और अनगिनत इतिहास जानने को भी मिलेंगे ...

Read More »

भारत के पांच प्रसिद्ध एवं अनोखे दशहरे!

Indore Dil Se - IDS Live

दशहरा जिसे विजयदशमी या आयुध पूजा भी कहा जाता है भारत का प्रमुख त्योहार है जिसे भारत के हर कोने में बड़ी धूम धाम से मनाया जाता है । इसी दिन भगवान् राम ने रावण का वध कर के विजय प्राप्त की थी तथा देवी दुर्गा माँ ने नौ रात्रि एवं दस दिन के युद्ध के बाद महिषासुर पर विजय ...

Read More »

चिराग तले अंधेरा… आष्टांग आयुर्वेद चिकित्सालय

IDS Live - News & Infotainment Web Channel

पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में हेल्थकेयर सिस्टम में सुधार के लिए 2022 अस्पतालों की तस्वीर बदलना चाहते हैं। लेकिन इंदौर का आष्टांग आयुर्वेदिक चिकित्सालय चिराग तले अंधेरा की कहावत को चरितार्थ कर रहा है। मरीज बिना बिजली के अंधेरे में पंचकर्म करवा रहे हैं। डॉक्टर इमरजेंसी लाइट में जांच करने के आदि हो गए हैं। आयुर्वेद पद्धतियों से जनता ...

Read More »

चिता का ये धुआं

Indore Dil Se - Artical

मैं नहीं जानता प्राण देह से अर्जित ज्ञान और अनुभव का कितना हिस्सा जाते वक्त पार्थिव में छोडक़र जाता है। अगर वह सारे कोष खाली कर देह को अपशिष्ट की तरह छोड़ जाता हो तब भी प्राण के संसर्ग से अर्जित मेधा का कुछ अंश तो रह ही जाता होगा। मैं चाहता हूं कि वह देह जब अग्नि को समर्पित ...

Read More »

लौट कर आयूंगा कूच से क्यों डरूं

IDS Live - News & Infotainment Web Channel

अटल थे तो कहाँ जायेंगे यहीं तो है आप उन्हें जहाँ पाएंगे अटल जी जैसी शक्शियतें कभी मरा नहीं करती ये बात और है की मौत से उनकी ठनी थी एवो प्रकर्ति का नियम है उसे हर हाल में सूरते अंजाम होना ही था हुआ भी वही जो होना था रार नहीं ठानने और हार नहीं मानने के लिए जाने ...

Read More »

ओझल हुआ राजनीति का ध्रुवतार

Indore Dil Se - Artical

अटलजी की सभा के लिए कभी भीड़ नहीं जुटाना पड़ी जैसे नरेंद्र मोदी या राहुल गांधी की सभा के लिए महीनों पहले से भीड़ जुटाने की रणनीति पर काम करना पड़ता है ऐसे दिन कभी अटलजी की सभा के लिए नहीं देखना पड़े। अटल जी की सभा यानी सिंहस्थ के स्नान की तारीख जहां बिना निमंत्रण के ही लोग अपने ...

Read More »

जब हम यमदूत का इंतजार करते हैं

Indore Dil Se - Artical

जीवन जितनी सहजता से जीया जा सकता है, उतनी ही असहज मृत्यु हो सकती है। खासकर तब जब वह देहरी पर आकर खड़ी हो जाए। न भीतर आए न बाहर जाए। वह द्वार पर खड़ी है, उस भिक्षुक की तरह जो न कटोरा आगे करता है और न पैर आगे बढ़ाता है। गृह स्वामी संकोच में है कि अब इसका ...

Read More »

बाढ़ के क़हर को रोकने की दरकार

IDS Live - News & Infotainment Web Channel

बरसात का मौसम शुरू ही देश के कई राज्य बाढ़ की चपेट में आ जाते हैं। बाढ़ से जान व माल का भारी नुक़सान होता है। लाखों लोग बाढ़ से प्रभावित होते हैं। कितने ही लोग बाढ़ की वजह से मौत की आग़ोश में समा जाते हैं। सैकड़ों मकान क्षतिग्रस्त हो जाते हैं, हज़ारों लोगों को बेघर होकर शरणार्थी जीवन ...

Read More »

हिन्दू मुस्लिम एकता की मिसाल : नातिया कलाम के हिन्दू शायर “तिलकराज पारस”

IDS Live - News & Infotainment Web Channel

हिन्दू धर्म में जिस तरह जगराता और भजन संध्या को जनमानस अध्यात्म और भक्ति से जुड़ा मन को शांति व संकल्प को संतोष देने वाला गीत संगीत से जुड़ा कार्यक्रम होता है वैसे ही मुस्लिम समुदाय में नात शायरी की हैसियत है । रमजान के मौके पर इसके आयोजन बहुतायत में होते हैं । उर्दू और फ़ारसी में इसे नात ...

Read More »

” जीजी “

Indore Dil Se - Artical

“अरे सुन, बेटा ये लाइट यहाँ लगा और ये फूलों की झालर ऊपर लेजाकर लगा दे और सुमनिया तू तो सजधज कर अभी तक यहीं खड़ी है अरे जल्दी जाकर देख हरीश भैया तैयार हुआ की नहीं ? पांडे जी की खुशी उनके हर काम से मानो छलक –छलक कर बाहर आ रही थी। खुशी की तो बात थी ही ...

Read More »
Translate »