Indore Dil Se - Adults

शीघ्रपतन से छुटकारा, अपनाएं ये घरेलु उपाय

आजकल युवाओं में वीर्य यानि स्पर्म का जल्दी गिर जाना एक बहुत बड़ी समस्या बन गई है। इसका मुख्य कारण गन्दी फिल्में, बुक्स और टेंशन का अधिक होना है। जिसके कारण युवाओं में जहाँ एक तरफ टेंशन बढ़ रही है तो वही वे खुद भी कमजोरी की तरफ स्वयं को बढ़ता हुआ देख रहे है।

इन समाधानों को गहराई से अपनाकर मजबूत मन की ताकत का परिचय देते हुए वीर्य के जल्दी निकलने पर काबू रखा जा सकता है। कई बार किसी वजह से दिमागी तनाव और दिमागी चोट की वजह से भी वीर्य के जल्दी निकलने की परेशानी भी पैदा हो जाती है। इस बातों से बिल्कुल भी घबराना नहीं चाहिए और न ही किसी खानदानी डाँक्टर या किसी भी तरह के नीम-हकीमों के चक्कर में आना चाहिए।

ऐसे डाँक्टर व नीम-हकीम लोग अपने पैसे कमाने के लिए किसी भी चलते हुए राहगीर व व्यक्ति को पागल (बेवकूफ) बनाकर किसी से भी पैसे ऐंठ लेते हैं और इसी के साथ ही अपने आधे-अधूरे ज्ञान और उल्टी-सीधी दवाइयों से और दूसरी भी दिमागी परेशानी पैदा कर देते हैं।

सेक्स क्रिया के बारे में किसी भी प्रकार की कैसी भी परेशानी हो, उसके समाधान और इलाज के लिए जितनी आवश्यक भूमिका एक डाँक्टर या चिकित्सक की होती है, उतनी ही आवश्यक भूमिका एक पत्नी व स्त्री की भी होती है।

संभोग करते हुए जब स्त्री-पुरुष मिलकर सेक्स क्रिया का सुख लेते हैं तो दोनों को मिलकर सेक्स के बारे में किसी भी प्रकार की परेशानी का समाधान भी मिलकर ही करना चाहिए। अधिकतर ऐसा भी देखा गया है कि वीर्य के जल्दी निकलने के रोग से पीड़ित पुरुष के साथ अपनी स्त्री का व्यवहार एकदम बदल सा जाता है।

स्त्री अपने व्यवहार से कई बार तो अपने पुरुष को उसके इस रोग के कारण आई कमजोरी का अहसास दिलाती है, उसे उकसाती रहती है और उसका मजाक भी उड़ाती रहती है। इस वजह से स्थिति सही होने की जगह और ज्यादा खराब हो जाती है। स्त्री को इस तरह की स्थिति पैदा हो जाने पर पूरे जोश के साथ अपने पुरुष का साथ निभाना चाहिए।

आप भी अगर इस समस्या से जूझ रहे है तो आज हम आपके लिए कुछ उपाय लेकर आए है जिनसे शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। जी हाँ, यहाँ हम आपको बता रहे है कुछ ऐसे ही तरीके जो आपकी शीघ्रपतन जैसी समस्या का समाधान बनकर उभर सकते है।

बबूल

बबूल के पत्ते, छाल, फल, गोंद और फूल को बराबर मात्रा में लेकर अच्छे से सुखा लें और फिर इसे पीस लें। अब कपड़े से छानकर इसे किसी शीशी में भरकर रख दें।

सेवन की विधि

बबूल के बने इस चूर्ण का सेवन सुबह और शाम को पानी के साथ एक-एक चम्मच लें। यह उपाय दो माह तक करें। इस उपाय से वीर्य का जल्दी गिरना बंद हो जाता है।

मुलहठी

अश्वगंधा 100 ग्राम, मुलहठी 50 ग्राम और शतावर 200 ग्राम। इन सभी को मिलाएं और पीसकर चूर्ण बना लें। और साफ कपड़े से छानकर कांच की शीशी में भर लें।

सेवन की विधि

मुलहठी से बने इस चूर्ण को रोज सुबह-शाम आधा चम्म्च मीठे दूध के साथ सेवन करना चाहिए। यह उपाय शीध्रपतन को ठीक करता है।

अश्वगंधा

50 ग्राम अष्वगंधा, 50 ग्राम नागकेसर और अजवायन को मिला लें और इसे पीस लें। अब इसे किसी साफ कपड़े से छानकर कांच की बोतल में रख लें।

सेवन की विधि

इस चूर्ण को हल्के गर्म दूध में आधी चम्मच मिलाकर सुबह के समय में सेवन करें। इस उपाय को रोज करने से वीर्य जल्दी से नहीं झड़ता है।

अजवायन

आधा चम्मच पिसी हुई अजवायन और एक चम्मच पिसी हुई बारीक मिश्री को मिलाकर सुबह- शाम गुनगुने दूध के साथ सेवन करें। यह नुस्खा भी वीर्य को जल्दी गिरने की समस्या को ठीक करता है।

पिसी हुई धनिया

100 ग्राम पिसी हुई धनिया और 100 ग्राम पिसी हुई मिश्री को बराबर मात्रा में मिला लें और इस चूर्ण को किसी कांच की बोतल या शीशी में भर लें।

सेवन की विधि

यह चूर्ण सुबह के समय खाली पेट एक चम्मच मठ्ठे के साथ सेवन करें। और रात में भी एक चम्मव छाछ के साथ लें। इस अचूक उपाय से वीर्य जल्दी से नहीं गिरता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »