रविवार को लॉक डाउन नही रहेगा।नाईट कर्फ्यू भी हटाया गया।

इंदौर में क्या-क्या खुलेगा आप खुद देखें…

# इंदौर में बंद पड़ी होटल, रेस्टोरेंट और बार अब खुल सकेंगे
रेस्टोरेंट्स और बार 50% क्षमता के साथ खुलेंगे
# होटलों में 100 % क्षमता के साथ कमरे भी उपलब्ध हो सकेंगे
# बीआरटीएस कॉरिडोर पर बसों का संचालन भी सुबह 8 से 12 बजे तक होगा
# सुबह 5 से 8 तक वाकिंग और साइकिलिंग के लिए बीआरटीएस का उपयोग किया जा सकेगा
# अन्य मार्गों पर चलने वाली सिटी बसें भी 15 दिन में शुरू की जा सकेगी
# रविवार का लॉकडाउन और रात्रिकालीन कर्फ्यू भी समाप्त कर दिया गया है

इंदौर । लाॅकडाउन के बाद से धीरे-धीरे खुल रहे इंदौर को शनिवार से पूरी तरह से अनलॉक हो जाएगा। शुक्रवार को इंदौर कलेक्टर मनीष सिंह ने नाइट कर्फ्यू के साथ ही रविवार के लॉकडाउन काे भी खत्म करने की घाेषणा कर दी। इसके अलावा लंबे समय से थमे हुए बसाें के पहिए भी अब कल से दौड़ेंगे शुरू कर देंगे। बस ऑपरेटर्स की टैक्स की मांग काे सरकार ने मान लिया है। इसके बाद ही संचालक बस चलाने पर राजी हाे गए हैं। इसके अलावा इंदौर से भोपाल दौड़ने वाली एआईसीटीएसएल की बसों का भी संचालन शनिवार से शुरू हो रहा है। बीआरटीएस पर भी लंबे समय बाद आई बस दौड़ती नजर आएंगी। हालांकि, अभी पर्यटन को बंद रखने का कलेक्टर ने निर्णय लिया है।

बैठक के बाद बस आनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष ब्रजमोहन राठी ने बताया कि करीब 5 दिन से हमारी चर्चा चल रही थी। शनिवार को शासन द्वारा टैक्स को लेकर हमारी मांगे मान ली गई हैं। इसके बाद हम अब आज या कल से बसों का संचालन शुरू कर देंगे। कलेक्टर के साथ हुई बैठक में संभाग, प्रदेश में बसों के संचालन के साथ ही आई बस और सिटी बस को लेकर भी चर्चा हुई। बस ओनर्स एसोसिएशन के साथ हुई बैठक में मुख्यमंत्री द्वारा टैक्स माफी की मांग मानने की जानकारी दी गई।

लंबे समय बाद चलेंगी आई बसें
अगस्त तक पूरा टैक्स माफ कर दिया गया है। इसके साथ ही एसोसिएशन ने अपनी सेवाएं शुरू करने की घोषणा कर दी है। वहीं, कलेक्टर ने एआईसीटीएसएल की सेवाएं भी शुरू करने की घोषणा कर दी है। अटल इंदौर सिटी ट्रांसपोर्ट सर्विसेस प्राइवेट लिमिटेड (एआईसीटीएसएल) के सीईओ संदीप सोनी ने बताया कि बसों के संचालन पर निर्णय हो गया है। हम शनिवार से ज्यादा से ज्यादा बसों का संचालन शुरू कर देंगे। इसमें इंदौर-भोपाल चार्टर्ड के साथ ही बीआरटीएस पर दौड़ने वाली आई बस शामिल हैं।

सितंबर का 50 फीसदी टैक्स माफ
कलेक्टर ने बताया कि मार्केट के साथ ही औद्योगिक क्षेत्र पूरी तरह से खुल चुके हैं। ऐसे में टर्नओवर को बढ़ाने के लिए बसों का संचालन जरूरी था। इसे लेकर लंबे समय से बात चल रही थी। इनकी टैक्स माफी की मुख्य मांग को शासन ने मान लिया है। अगस्त तक पूरी तरह से टैक्स माफ किया गया है, जबकि सितंबर में 50 फीसदी टैक्स लिया जाएगा। यानी की सितंबर का भी 15 दिन का ही टैक्स देना होगा। किराए को लेकर समिति के साथ बैठक के बाद निर्णय लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »