चायपत्ती ने बटोरी वाहवाही, दर्शकों ने कन्‍सेप्‍ट और अभिनय को सराहा

यह शॉर्ट फिल्म कहानीकार सुधांशु राय का निर्देशन की दुनिया में पहला कदम है

इस साल होली के समीप कुछ बहुचर्चित फिल्मों को दर्शकों के बीच लाया गया| इसी कतार में एक नाम है शॉर्ट फिल्म चायपत्ती, जो हास्य और भय रस से भरपूर एक हॉरर कॉमेडी है| यूट्यूब पर ये फिल्म रविवार को रिलीज़ की गयी, और कई दर्शकों का मानना है कि हॉरर कॉमेडी श्रेणी में चायपत्ती एक अनूठा अध्याय है| दर्शकों ने फिल्म को भिन्न कहानी,
निर्देशन और पात्रों के अभिनय के लिए सराहा है| चायपत्‍ती तीन दोस्‍तों की कहानी है जो किसी भूत को बुलाने के लिए एक किताब के साथ प्रयोग कर रहे हैं। इन तीनों दोस्तों का व्यक्तित्व एक दूसरे से बिलकुल इतर है, इसलिए उनके संवाद हास्य-विनोद से भरपूर हैं साथ ही उनकी असमंजस से भरी मानसिक स्थिति को दर्शाते हैं। वे किताब पढ़ना शुरू करते हैं, कुछ मंत्रोच्चारण करते हैं और मंत्र के पूरा होने से पहले ही अचानक दरवाज़े पर एक दस्तक होती है। तो क्‍या यह वही भूत है जिसका आह्वान इन दोस्‍तों ने किया था? अब क्‍या इन दोस्‍तों का  हंसी-मज़ाक किसी दु:स्‍वप्‍न में तो नहीं बदल जाएगा?

इस शॉर्ट हॉरर-कॉमेडी फिल्‍म को 28 मार्च को यूट्यूब पर रिलीज़ किया गया और जल्द ही यह फिल्म जाने माने ओटीटी प्‍लेटफार्मों पर भी पेश की जाएगी। करीब 10 मिनट की अवधि की इस शॉर्ट फिल्‍म के साथ सुधांशु राय ने पहली बार डायरेक्‍शन तथा एक्टिंग की दुनिया में कदम रखा है। गौरतलब है कि सुधांशु ने हाल ही में देश के एक जाने-माने एफएम रेडियो चैनल पर अपने स्‍टोरीटेलिंग शो का पहला सीज़न पूरा किया है।

चायपत्‍ती का कन्‍सेप्‍ट इस हॉरर कॉमेडी ड्रामा की प्रमुख खासियत है, जिसे सेंट्स आर्ट् व कहानीकार सुधांशु राय के बैनर ने प्रस्तूत किया है। फिल्‍म में सुधांशु के अलावा अभिषेक सोनपालिया, शोभित सुजय और प्रियंका सरकार ने अभिनय किया है।

प्रोडक्‍शन की दुनिया में कदम रखने के बारे में सुधांशु राय ने कहा, “अपने दोस्‍त और फिल्‍म के को-प्रोड्यूसर पुनीत के साथ मिलकर चायपत्‍ती पर काम करना वाकई एक दिलचस्‍प अनुभव साबित हुआ है। हालांकि यह फिल्‍म हॉरर-कॉमेडी है, लेकिन इसकी स्‍टोरीलाइन आम हॉरर फिल्‍मों से काफी अलग है। यह फिल्म हमारे निकट भविष्य में आने वाले कुछ बड़े प्रोजेक्‍ट्स के लिए एक मील का पत्‍थर साबित होगी।

चायपत्‍ती के को-प्रोड्यूसर एवं सह-लेखक पुनीत शर्मा ने कहा, ”चायपत्‍ती को इतना पसंद करने के लिए हम दर्शकों का तहे दिल से शुक्रिया करते हैं| बहुत सारे दर्शकों ने चायपत्‍ती के दूसरे भाग की डिमांड की है, देखते हैं आगे क्या होता है|”

चायपत्‍ती के क्रिएटिव प्रोड्यूसर अनंत राय ने फिल्‍म में डरावने मगर मज़ाकिया पलों को बखूबी दर्शाने में एक अहम भूमिका निभाई है। इस फिल्‍म की कहानी को नाटकीय बनाने में बैकग्राउंड म्‍युजिक का योगदान भी काफी है जिसे करण अनेजा और लेज़र एक्‍स ने तैयार किया है। फिल्‍म को साहिब अनेजा ने एडिट किया है और इस पूरे ड्रामे को एक खास अहसास से भरने का काम किया है डायरेक्‍टर ऑफ फोटोग्राफी विपिन सिंह ने।

लेखक :- नूपुर बैरसिया (Noopur Barsaiya, PR)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Translate »