Don't Miss

Tag Archives: Betiya

प्यारी सी बेटिया

आंगन में महकती खुशबू कि तरह श्रद्धा में वो तुलसी कि तरह हसती मुस्कुराती गुडिया कि तरह बेटीया तो है सुंदर परियो कि तरह | छोटी सी मुस्कान लेकर आती है नन्हे कदमो से जब वो इठलाती है तुत्लाकार जब वो कुछ कहती है घर में खुशहाली छां जाती है | छोटी सी बीटीया जब बडी हो जाती है बिदाई ...

Read More »

बेटियाँ

प्यार का मीठा एहसास हैं बेटियाँ, घर के ऑंगन का विश्वास हैं बेटियाँ… वक़्त भी थामकर जिनका ऑंचल चले, ढलते जीवन की हर श्वास हैं बेटियाँ… जिनकी झोली है खाली वही जानते, पतझरों में भी मधुमास हैं बेटियाँ … रेत-सी ज़िन्दगी में दिलों को छुए, मखमली नर्म-सी घास हैं बेटियाँ… तुम न समझो इन्हें, दर्द का फलसफा कृष्ण-राधा का महारास ...

Read More »

बेटी

घर की सब चहल – पहल है बेटी, जीवन में खिला कमल है बेटी ! कभी धूप गुनगुनी सुहानी, कभी चंदा शीतल है बेटी !! शिक्षा, गुण संस्कार रोप दो, फिर बेटी सी सबल है बेटी !! सहारा दो गर विश्वास का, तो पावन गंगागल है बेटी !! प्रकृति के सदगुण सींचो, तो प्रकृति सी निश्छल है बेटी !! क्यों ...

Read More »
Translate »