Tag Archives: One Rupee Power

एक रुपए की ताकत

आगरा की एक युवती ने इस पुरानी कहावत को सही साबित कर दिखाया कि बूंद-बूंद से समंदर बनता है। दो साल पहले उन्होंने 500 गुल्लक आगरा की इतनी ही दुकानों पर रखे थे और सभी से सिर्फ एक रुपये प्रतिदिन इसमें डालने का अनुरोध किया था। एक-एक रुपये कर आज उनके पास करीब ढाई लाख रुपये एकत्र हो चुके हैं। ...

Read More »
Translate »