Tag Archives: Sai Nath

श्री सच्चिदानंद सदगुरु साईनाथ महाराज

जबसे बढ़ा सांई से रिश्ता दुनियां छूटी जाय हम आऐ सांई के द्वारे धरती कहीं भी जाय चहूं ओर तूफ़ान के धारे,मैली हवा वीरान किनारे जीवन नैया सांई सहारे फिर भी चलती जाय जबसे बढ़ा सांई से रिश्ता दुनिया छूटी जाय नाम सिमरले जब तक दम है,बोझ ज़ियादा वक्त भी कम है याद रहे दो दिन की उमरिया पल पल ...

Read More »

एक प्राथना मेरी साईनाथ से

जबसे बढ़ा सांई से रिश्ता दुनियां छूटी जाय हम आऐ सांई के द्वारे धरती कहीं भी जाय चहूं ओर तूफ़ान के धारे, मैली हवा वीरान किनारे जीवन नैया सांई सहारे फिर भी चलती जाय जबसे बढ़ा सांई से रिश्ता दुनिया छूटी जाय नाम सिमरले जब तक दम है, बोझ ज़ियादा वक्त भी कम है याद रहे दो दिन की उमरिया ...

Read More »

साईं का साथ

जब कोई तूफ़ान हमें दिल से हिला जाता है तब साईं बाबा का साथ ही हमें बचा पाता है… उस तूफ़ान से घबराकर हारने लगते है जब हम तो साईं का विश्वास ही हमें हौसला दे जाता है… सच तो ये है की जितना हम पल पल में टूटने लगते है उतना ही साईं का साथ है में मजबूत बना ...

Read More »
Translate »