उर्वरक मंत्री और खेल मंत्री ने नेत्रहीन क्रिकेट टीम को दी शुभकामनाएं

केन्‍द्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री श्री अनंत कुमार और युवा मामले एवं खेल मंत्री श्री सर्बानंद सोनोवाल ने एकदिवसीय अन्‍तर्राष्‍ट्रीय नेत्रहीन क्रिकेट प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए केप टाउन, दक्षिण अफ्रीका जा रही 20 सदस्‍यीय नेत्रहीन क्रिकेट टीम को गर्मजोशी से शुभकामनाएं दी हैं। यह प्रतियोगिता 24 नवंबर से 09 दिसम्बर, 2014 तक आयोजित की जा रही है। भारतीय टीम को क्रिकेट एसोसिएशन फॉर द ब्‍लाइंड इन इंडिया (सीएबीआई) ने प्रायोजित किया है।

श्री अनंत कुमार, नेत्रहीन क्रिकेट के मजबूत पेरोकार और विकलांगों के कल्याण के प्रमुख समर्थक हैं। उन्‍होंने अपने आवास पर इस टीम के खि‍लाडि़यों के सम्‍मान में चाय-नाश्ते का आयोजन किया। इस टीम के कप्तान श्री शेखर नाईक एक जाने माने नेत्रहीन खिलाड़ी हैं, जिन्‍होंने अपने क्रिकेट जीवन में अनेक ट्रॉफियां जीती हैं। श्री अनंत कुमार ने खिलाडि़यों को भरोसा दिलाया कि विजयी वापसी के बाद वे उनकी प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी से मुलाकात कराएंगे। श्री सोनोवाल ने भी पूरे दिल से इसका समर्थन किया। दोनों केंद्रीय मंत्रियों के अलावा भारतीय खेल प्राधिकरण के महानिदेशक और संयुक्त सचिव, खेल तथा दोनों मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर मौजूद थे।

सीएबीआई के अध्‍यक्ष श्री एस.पी. नागेश, स्‍वयं एक नेत्रहीन क्रिकेट खिलाड़ी और उत्‍कृष्‍ट एथलीट हैं। उन्‍होंने दोनों केन्द्रीय मंत्रियों और अन्य विशिष्ट अतिथियों का स्वागत किया। उन्‍होंने मंत्रियों के माध्‍यम से सरकार से यह अनुरोध किया कि भारत में नेत्रहीन क्रिकेट को व्यापक मान्यता दिलाने के लिए सीएआईबी की मदद करे। सीएबीआई लंबे समय से बीसीसीआई के साथ संबद्धता के लिए मांग कर रही है। श्री नागेश ने मंत्रियों से नेत्रहीन क्रिकेट टीम की दक्षिण अफ्रीका यात्रा के लिए पर्याप्त वित्तीय सहायता उपलब्‍ध कराने की भी अपील की।

दक्षिण अफ्रीका जा रही भारतीय नेत्रहीन क्रिकेट टीम में देश के लगभग सभी राज्‍यों के 20 खिलाड़ी शामिल हैं। मंत्रियों ने टीम के कप्तान और अन्य सभी सदस्यों को फूल मालाएं पहनाकर और शाल ओढ़ाकर सम्‍मानित किया।

Review Overview

User Rating: Be the first one !

: यह भी पढ़े :

ऑस्ट्रेलिया सेमीफाइनल में

एडिलेड। वर्ल्ड कप के क्वॉर्टर फाइनल में पाकिस्तान की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले बैटिंग …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »