कांग्रेस से मतदाताओं को जोड़ न सकी राहुल की भारत जोड़ो यात्रा

राहुल की भारत जोड़ो यात्रा जहां-जहां गुजरी, वहां कांग्रेस का सफाया

विधानसभा चुनाव परिणाम के लिहाज से देखें तो कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश में जिन क्षेत्रों से गुजरी, वहाँ पार्टी को नुकसान ही हुआ। यात्रा मार्ग की बहुत सी सीटों पर पिछले चुनाव में काँग्रेस ने जीत हासिल की थी। कुछ सीटें तो कांग्रेस की गढ़ कही जाती थी, लेकिन सब पर हार मिली। ।

बता दें कि भारत जोड़ो यात्रा बुरहानपुर, खंडवा, खरगौन, इंदौर, उज्जैन और आगर-मालवा जिले के विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरी थी। यात्रा के दौरान राहुल के साथ कांग्रेस की वरिष्ठ नेता प्रियंका गांधी वाड्रा, उनके पति राबर्ट वाड्रा, ख्यात मुक्केबाज विजेंद्र सिंह, अभिनेत्री स्वरा भास्कर सहित कई ख्यात हस्तियों ने भी कदमताल की थी। यात्रा में भीड़ जुटी थी, लेकिन लोगों ने कांग्रेस के पक्ष में मत नहीं दिए।

राहुल की यात्रा मप्र में बुरहानपुर से प्रारंभ हुई थी। यहां भाजपा की अर्चना चिटनिस ने कांग्रेस के सुरेंद्र सिंह शेरा को 31 हजार से ज्यादा मतों से हराया। शेरा पिछली बार यहां से जीते थे। नेपानगर सीट पर 2018 में कांग्रेस की सुमित्रा कासडेकर चुनाव जीती थीं। बाद में उन्होंने भाजपा का दामन थाम लिया था और उपचुनाव भी जीतीं। इस बार भाजपा ने मंजू राजेंद्र दादू को टिकट दिया, जिन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी गेंदू बाई को 44 हजार से ज्यादा मतों से हराया। खंडवा के पंधाना में पिछली बार भी भाजपा जीती थी और इस बार छाया मोरे ने कांग्रेस की रूपाली जैन को 28816 मतों से हराया। खंडवा की ही मांधाता विधानसभा से 2018 में कांग्रेस के नारायण पटेल विजयी हुए थे। बाद में उन्होंने भाजपा का दामन थामा और उपचुनाव जीते। इस बार भाजपा ने उन्हें प्रत्यासी बनाया और कांग्रेस के उत्तम राजनारायण सिंह पुरनी को करीब छह सौ मतों से हराया।

खंडवा के बड़वाह और समीप की भीकनगांव विधानसभा सीटों पर वर्ष 2018 के चुनाव में कांग्रेस जीती थी। बड़वाह से काँग्रेस विधायक सचिन बिड़ला ने भाजपा का दमन थाम लिया था। इस चुनाव में भाजपा के टिकट पर लड़े बिरला ने कांग्रेस के नरेंद्र पटेल की पांच हजार से ज्यादा मतों से हराया। भीकनगांव में पिछले दो चुनाव में कांग्रेस की झूमा सोलंकी विजयी रही थीं। इस बार यहां भाजपा की नंदा ब्राह्मणे ने झुमा को छह सौ से ज्यादा मतों से हराया ।

बड़वाह से आगे बढ़ते हुए यात्रा वाहनों से सीधे महू विधानसभा पहुंची थी। महू में राहुल की आम सभा भी हुई थी। यहां पिछली बार भाजपा की उषा ठाकुर विजयी रहीं थीं। कांग्रेस ने भी पूर्व विधायक और पिछले प्रापाशी अंतरसिंह दरबार को टिकट न देते हुए भाजपा से कांग्रेस में आए रामकिशोर शुक्ला को टिकट दिया। उषा ठाकुर ने 34 हजार से ज्यादा मतों से जीत दर्ज की। कांग्रेस तीसरे स्थान पर रही।

यात्रा का अगला पड़ाव राऊ विधानसभा क्षेत्र रहा। यहां प्रदेश काँग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व मंत्री जीतू पटवारी दो चुनाव जीते थे। इस बार मधु वर्मा ने शुरुआती दौर से ही बढ़त का सिलसिला जारी रखा और 35 हजार से ज्यादा मतों से पटवारी की हराया।

यात्रा इंदौर में विधानसभा चार, तीन और एक होते हुए सांवेर पहुंची थी विधानसभा तीन में रात्रि विश्राम और संगीत सभा हुई थी, जबकि सांवेर में सभा हुई थी। सभी सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी प्रारंभिक दौर से ही पीछे दिखे। इनमें से विधानसभा क्षेत्र क्र. एक में पिछली बार कांग्रेस जीती थी, लेकिन इस बार भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला को 57 हजार से ज्यादा के अंतर से हराया। सांवेर में भाजपा के तुलसीराम सिलावट ने अपना ही पिछला रिकॉर्ड तोड़ते हुए 68 हजार से ज्यादा मतों से जीत दर्ज की।

उधर, उज्जैन की दोनों सीटों पर भाजपा ने दबदबा कायम रखा। घटिया में भाजपा के सतीश मालवीय ने कांग्रेस के रामलाल मालवीय की 17 हजार 666 मतों से हराया। 2018 में यहां कांग्रेस के रामलाल मालवीय जीते थे। मप्र में इस यात्रा का अंतिम पड़ाव आगर था। यहां भाजपा के माधव सिंह ने कांग्रेस के विपिन वानखेड़े को 89 हजार से ज्यादा मतों से पराजित किया।
लेखक :- कपीश दुबे

IDS Live

Related Posts

काशीवासियों ने निकाली ऐतिहासिक मतदान संकल्प यात्रा

वाराणसी । लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मद्देनजर मतदान प्रतिशत बढ़ाने के लिए प्रत्येक स्तर पर पुरजोर प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में बुधवार को वाराणसी में…

जब दिल ही टूट गया

मंत्री मंडल बनने से पहले की रात कई “माननीयों” पर भारी रही। जब तक नामों की पोटली नहीं खुली थी, उम्मीद ज़िंदा थी। तब नींद में गुनगुनाया करते थे, “शब-ए-इंतेज़ार”…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You Missed

सेक्स के अलावा भी कंडोम का उपयोग है?

सेक्स के अलावा भी कंडोम का उपयोग है?

शीघ्रपतन से छुटकारा, अपनाएं ये घरेलु उपाय

शीघ्रपतन से छुटकारा, अपनाएं ये घरेलु उपाय

सेक्स के लिए बाहर क्यूं मुंह मारते है पुरुष ?

सेक्स के लिए बाहर क्यूं मुंह मारते है पुरुष ?

गर्भनिरोधक गोलियों के बिना भी कैसे बचें अनचाही प्रेग्नेंसी से ?

गर्भनिरोधक गोलियों के बिना भी कैसे बचें अनचाही प्रेग्नेंसी से ?

कुछ ही मिनटों में योनि कैसे टाइट करें !

कुछ ही मिनटों में योनि कैसे टाइट करें !

दिनभर ब्रा पहने रहने के ये साइड-इफेक्ट

दिनभर ब्रा पहने रहने के ये साइड-इफेक्ट